JHARKHANDRANCHI

पंचायत चुनाव में पति को पत्नी ने दी पटखनी, पति आ गया तनाव में

रांची | झारखंड में हो रहे पंचायत चुनाव में एक ऐसा नतीजा आया की जिसे सुनने के बाद कोई अपनी हंसी को नहीं रोक पा रहा है। हालांकि चुनाव वार्ड सदस्य का था। लेकिन नतीजे इतने ज्यादा रोचक आये हैं कि आप भी इस राज को समझने के लिए उत्सुक होंगे। मामला राजधानी रांची का है जहां घर पर मुखिया के तौर पर व्यवस्था संभालने वाली पत्नी चुनाव मैदान में भी अव्वल रही है। उसने त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में वार्ड सदस्य के तौर पर चुनाव लड़ रहे पति को पटखनी दी। पंडरा स्थित मतगणना केंद्र में यह चर्चा का विषय बना रहता है। पिठोरिया पंचायत के वार्ड नंबर तीन में सदस्य के पद पर पति हफीज अंसारी और उनकी पत्नी रशीदा खातून चुनाव मैदान में आमने सामने खड़े हुए थे। इसके अलावा सदस्य के प्रत्याशी के रूप में किसी ने भी चुनाव लड़ने के लिए नामांकन नहीं किया था।वही पत्नी ने अपने पति को हरा कर एक मिशाल कायम कर दी है।

दोनों के बीच बहुत ही जबरदस्त मुकाबला हुआ। पत्नी को चुनाव चिन्ह गैस चूल्हा मिला था, जबकि पति को गिलास था। रविवार को पंडरा में मतगणना शुरू हुई तो दोनों अगल-बगल ही खड़े थे। लेकिन दोनों के चेहरे पर तनाव था। मतगणना केंद्र में जैसे-जैसे वोटों की गिनती हो रही थी, उस वक्त बार-बार रशीदा अपने पति से यही कह रही थी कि आप चुनाव से नाम वापस ले लें। वहीं पति उसे यही जवाब दे रहा था कि अबकी बार वही जीतेगा। इसी बीच वोटों की गिनती की प्रक्रिया पूरी की गई। विजेताओं की घोषणा की गई। रशीदा को 155 वोट मिले, जबकि उनके पति हफीज को 119 वोट मिला। 36 वोट से रशीदा ने अपने पति हफीज को हराकर पिठोरिया पंचायत के वार्ड नंबर तीन के सदस्य चुनी गईं। रशीदा खातून दो बार से वार्ड सदस्य हैं। विजेता होने के बाद लोगों ने रशीदा बधाई दी। फूल-माला पहनाकर नारे भी लगाए गए।

चेहरे पर थी हफीज की मायूसी

पत्नी से हार जाने के बाद पति हफीज अंसारी के चेहरे पर मायूसी नजर आई। जब उनसे कहा गया कि जीत आखिरकार घर की ही हुई है तो हफीज ने कहा कि 119 वोटर जिन्होंने उन्हें वोट किया है आखिर वह भी तो हार गए।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!