World

आज है ‘वर्ल्ड डोनर डे, आप भी करें रक्तदान

विश्व रक्तदाता दिवस – जैसा की सब जानते है रक्तदान महादान होता है। आज दुनियाभर में विश्व रक्तदान दिवस मनाया जा रहा है. पहली बार इसे साल 2005 में पूरे विश्व मे मनाया गया था ।इसका उद्देश्य ‘खून की कमी से लोगों की जान न जाए’, इसलिए लोगों के बीच जागरुकता फैलाने की एक पहल की गयी थी । रक्तदान से आप ना सिर्फ किसी की जिंदगी बचा सकते हैं, बल्कि खुद को स्वस्थ भी रखने में मदद मिलेगी. कई रिसर्च में ये बात सामने आई है कि ब्लड डोनेट करने से शारीरिक और मानसिक रूप से हेल्दी रहते हैं.

World Blood Donor Day 2022: थीम

प्रत्येक वर्ष, विश्व रक्तदान दिवस मनाने के लिए एक थीम और स्लोगन का चयन किया जाता है. यह WHO (विश्व स्वास्थ्य संगठन) के द्वारा किया जाता है. इस वर्ष 2022 के थीम है- “Give blood and keep the World beating”

विश्व रक्तदाता दिवस के उद्देश्य

रक्तदाताओं ने न जाने कितने जीवन की रक्षा की है. इन रक्तदाताओं की सामाजिक महत्त्व और पहचान के लिए प्रत्येक वर्ष रक्तदान शिविर का आयोजन किया जाता है. अतः रक्तदान के महत्व और इसका प्रचार – प्रसार के लिए विश्व रक्तदाता दिवस मनाया जाता है.

विश्व रक्तदाता दिवस 2022 का मुख्य उद्देश्य

रक्तदाताओं का धन्यवाद करना और निरंतर और निशुल्क रक्त के प्रति बृहत रुप से लोगों को जागरूक करना

रक्तदान के सामुदायिक मूल्यों को सामुदायिक एकता एवं सामाजिक एकजुटता के लिए प्रोत्साहित करना

मानवता के लिए रक्तदान करने के लिए युवाओं को प्रोत्साहित करना तथा अन्य लोगों को भी इसके लिए प्रेरित करना

युवाओं की क्षमता को स्वास्थ्य वर्धन में सहभागिता का उत्सव मनाना

ब्लड डोनेशन के जुड़ी रोचक बातें

ब्लड डोनेट करते समय डोनर के शरीर के केवल एक यूनिट ब्लड ही लिया जाता है.

एक नॉर्मल व्यक्ति के शरीर में 10 यूनिट यानी 5 से 6 लीटर ब्लड होता है.

‘O नेगेटिव’ ब्लड ग्रुप यूनिवर्सल डोनर कहलाता है, इसे किसी भी ब्लड ग्रुप के व्यक्ति को दिया जा सकता है.

इमरजेंसी के समय जैसे जब किसी नवजात बालक या अन्य को खून की आवश्यकता हो और उसका ब्लड ग्रुप ना पता हो, तब उसे ‘O नेगेटिव’ ब्लड दिया जा सकता है.

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!