DHANBADJHARKHAND

निरसा में थम नहीं रहा कोयले का अवैध कारोबार, जगह-जगह छापेमारी

मनोज कुमार सिंह ब्यूरो चीफ

निरसा-निरसा में अवैध कोयला कारोबार पर ड्राई डे घोषित होने के बाद एसएसपी द्वारा विशेष टीम बनाकर विशेष अभियान चलाने की तैयारी की गई थी| निर्देश दिया गया था कि किसी भी कीमत पर कोयला का अवैध कारोबार चलने नहीं दिया जाएगा. बावजूद पुलिस को धता बताते हुए पूरे निरसा विधानसभा क्षेत्र में धड़ल्ले से कोयले का अवैध कारोबार चल रहा था| विशेष टीम ने 2 जून को निरसा, कालूबाथान व मैथन ओपी क्षेत्र के विभिन्न भट्टों में रेड कर भारी मात्रा में कोयला जब्त किया| मैथन ओपी क्षेत्र के जोगेंद्र राय के भट्टा बाबा बरमेश्वर नाथ फ्युल्स में लगभग 100 टन कोयला जब्त किया| निरसा थाना क्षेत्र के अष्टभुजा भट्ठे सलगोड़िया बिनोद चौधरी के भट्टा में लगभग 5 टन अवैध कोयला जब्त किया गया|

वही अशोक तिवारी के भट्टा संकट मोचक में भी छापेमारी हुई 30 टन बैंड कोयला जब्त किया गया| दूसरी ओर कालूबथान ओपी क्षेत्र के डब्लू सिंह गुलियाडीह स्थित जय मां काली इंधन उद्योग भट्टा से भी अवैध कोयला जब्त किया गया| निरसा, मैथन व कालूबाथान ओपी क्षेत्र में अब भी कोयले का अवैध कारोबार जारी है| निरसा थाना क्षेत्र टॉपटार स्थित भट्ठा रमेश गोप व गुलफान अंसारी बड़े पैमाने पर अवैध कोयला ट्रैक्टर व साइकिल के द्वारा लिया जा रहा है वहीं महामाया फ्यूज रमेश गोप के भट्ठे में ट्रैक्टर,वाइबर के द्वारा कोयला लिया जा रहा है नहीं होती है करवाई? आखिर कौन है जिम्मेवार

रमेश गोप वही है जो सिंडिकेट निरसा में चला रहा था करीब 9 महीना से ₹3000 प्रति टन असुली कर करोड़ों रुपैया वसूली कर उच्च अधिकारियों, सफेदपोश वाले को पहुंचाते थे मोटी रकम निरसा क्षेत्र में लगभग 56 दीपू व भट्ठा अवैध चला रहे थे। रमेश गोप काम ₹3000 प्रति टन वसूली करना जिसमें कुल कर्मचारी 150 सौ लड़का को गाड़ी गिनती में लगाए थे। धनबाद स्थित अधिकारी के एक स्टाफ शर्मा जी वेडलॉक में अरबों रुपए ले गए मुजफ्फरपुर

भट्ठा डंके की चोट पर चल रहा है| आज की छापेमारी के बाद अवैध कोयला से जुड़े संचालकों के बीच खलबली मची है| सभी भट्ठों के विरुद्ध स्थानीय पुलिस कारवाई में जुट गई है|

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!