JHARKHAND

धनवार चावल कालाबाजारी मामले में जिला शिक्षा अधीक्षक की टीम ने की जांच

रिपोर्टर: हरिहर वर्मा

धनवार प्रखंड क्षेत्र के उत्क्रमित मध्य विद्यालय मामायहरी में मध्याहन भोजन का चावल बेचने का लगाए गए आरोप का सोमवार को नोडल पदाधिकारी जिला शिक्षा अधीक्षक गिरिडिह सह क्षेत्रीय शिक्षा पदाधिकारी गिरिडिह द्वारा लगभग दो घण्टे का गहन जाँच किया गया। इस दौरान ग्रामीणों तथा आवेदन में हस्ताक्षर करने वाले सभी महिला परुषों से पूछताछ की गई। इस दौरान कुछ ऐसे भी मामले आये जिसमें आरोप लगाने वालों द्वारा दिए गए आवेदन में छोटे-छोटे बच्चों से भी हस्ताक्षर कराया गया था। कई लोगों ने तो जाँच अधिकारी को वृद्धा पेंशन करा देने के नाम पर भी हस्ताक्षर कराया गया था।

वहीं जाँच के दौरान किसी ने विद्यालय से राशन निकाल कर बेचते देखने की बात को स्वीकार नही किया। यहां तक कि आरोप लगाने वालों ने भी प्रत्यक्ष चावल बेचते नही देखने की बात स्वीकार किया। बावजूद कई बिंदुओं पर गहन जाँच पड़ताल की गई। जिसके उपरांत नोडल पदाधिकारी जिला शिक्षा अधीक्षक गिरिडिह सह क्षेत्रीय शिक्षा पदाधिकारी गिरिडिह से पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवालों पर बताया कि मेराज आलम सहित ग्रामीणों द्वारा विद्यालय का चावल बेचे जाने का आरोप लगया गया था जिसकी जाँच की जा रही है। जाँच प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद रिपोर्ट के माध्यम से अवगत करा दिया जाएगा।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!