Month: May 2022

  • Uco बैंक दे रही है ब्याज दरों में इतने फीसदी की छूट, आप भी ले सकते है लोन

    अगर आप भी घर, कार या सोना खरीदने के लिए लोन लेने की सोच रहे हैं, तो आपके लिए एक शानदार मौका है| यूको बैंक अपने ग्राहकों के लिए लोन की ब्याद दरों में 1 फीसदी तक छूट दे रही है| अलग-अलग लोन पर छूट की दरें अलग है. इसमें सबसे ज्यादा गोल्ड लोन पर 1 फीसदी तक डिस्काउंट मिल रहा है.

    ट्वीट कर दी जानकारी

    यूको बैंक ने शुक्रवार को माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर एक पोस्ट के जरिए इस ऑफर की जानकारी दी| बैंक ने लिखा कि हमें (UCO Bank) होम/कार/गोल्ड लोन की ब्याज दरों पर 1 फीसदी तक की छूट की घोषणा करते हुए खुशी हो रही है. जल्दी करें|

    होम लोन पर छूट

    बैंक की ऑफिशियल वेबसाइट के मुताबिक, UCO बैंक होम लोन की ब्याज दरों पर 0.40 फीसदी तक की छूट दे रही है. बैंक ने बताया कि 750 या उससे अधिक सिबिल स्कोर (CIBIL) वाले लोगों के लिए नई ब्याज दरें 6.90 फीसदी है| वहीं 750 सिबिल स्कोर से कम वाले लोगों के लिए Home Loan की ब्याज दरें 7.10 फीसदी है|

    कार लोन पर छूट

    यूको बैंक अपने कस्टमर्स को कार लोन की ब्याज दरों पर 0.55 फीसदी तक का डिस्काउंट ऑफर कर रही है| बैंक ने बताया कि कार लोन के लिए नई ब्याज दरें 7.55 फीसदी है|

    गोल्ड लोन पर छूट

    यूको बैंक (UCO Bank) गोल्ड लोन की ब्याज दरों पर सबसे ज्यादा 1 फीसदी तक का डिस्काउंट दे रहा है. गोल्ड लोन (Gold Loan) पर बैंक की ब्याज दरें 7.40 फीसदी से शुरु होता है. जो कि आगे 7.90 फीसदी तक जाता है.

    30 सितंबर तक है मौका

    बैंक ने बताया कि कस्टमर्स के लिए लोन की ब्याज दरों पर यह डिस्काउंट 30 सितंबर, 2022 तक लागू है| इसमें 30 सितंबर तक के फ्रेश लोन पर ही कस्टमर्स को यह फायदा मिलेगा| कस्टमर्स अधिक जानकारी के लिए यूको बैंक (UCO Bank) की ऑफिशियल वेबसाइट www.ucobank.com पर भी विजिट कर सकते हैं|

  • झारखंड के चतरा NIA ने की कोयला कारोबारी के घर छापेमारी, 2 लोग गिरफ्तार

    नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी(NIA) ने शुक्रवार को झारखंड के चतरा में छापेमारी कि है। छापेमारी के क्रम में दो लोगों को (NIA) ने गिरफ्तार भी कर लिया है। यह कार्रवाई टेरर फंडिंग के मामले मे होने की पुष्टि नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी द्वारा की गयी है।

    NIA को इस बात की सूचना मिली थी कि CCL, पुलिस, उग्रवादी और शांति समिति के बीच समन्वय बैठाने की आड़ में मोटी रकम लेवी के रूप में वसूली जाती थी। इस संबंध में। NIA टंडवा थाने में दर्ज प्राथमिकी(कांड संख्या 22/18) की जांच कर रही है।

    कई लोग हैं ED की रडार पर
    इस संबंध में कई लोग पहले से ईडी को रडार पर हैं। वहीं आधुनिक पावर के महाप्रबंधक संजय कुमार जैन, ट्रांसपोर्टर सुधांशु रंजन उर्फ छोटू सिंह, मास्टरमाइंड सुभान खान, विदेश्वर गंझू उर्फ बिंदु गंझू, प्रदीप राम, विनोद गंझू, अजय सिंह भोक्ता समेत नौ आरोपी मुकदमे का सामना कर रहे है।

    तय राशि से ज्यादा दर पर लिया गया था ढुलाई का टेंडर
    प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन तृतीय प्रस्तुति कमेटी (TPC) को फंड देने की भी जांच में पुष्टि हुई है। TPC को लेवी देने के लिए ही उसने ऊंची दर पर मगध और आम्रपाली प्रोजेक्ट से कोयला ढुलाई का ठेका लिया गया था। जिसकी अनुशंसा कथित तौर ओर उग्रवादी संगठन ने की थी। बदले में ऊंची दर पर ली गई राशि का अधिकतर हिस्सा टीपीसी तक जाता था।

  • अगर चेन्नई से हार जाये राजस्थान तो पॉइंट्स टेबल पर क्या होगा बदलाव

    Ipl नाम सुन कर ही मन मे बहुत ज्यादा ऊर्जा का संचार होने लगता है।हम बात कर रहे है, इंडियन प्रीमियर लीग का 15वां सीजन की।मैच अपने आखिरी चरण की ओर बढ़ चुका है जिसके 67 मैचों के बाद फैन्स को प्लेऑफ में क्वालिफाई करने वाली 2 टीम मिल चुकी हैं जबकि 5 टीमें रेस से बाहर हो चुकी हैं। आईपीएल 2022 के प्लेऑफ में पहुंचने वाली गुजरात टाइटंस पहली टीम बनी तो वहीं पर लखनऊ सुपरजाएंटस ने भी 18 अंक लेकर दूसरे पायदान पर कब्जा किया हुआ है। हालांकि बचे हुए 2 स्थान के लिये अभी भी दिल्ली कैपिटल्स, राजस्थान रॉयल्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम के बीच जंग देखने को मिल रही है।

    वहीं पर प्लेऑफ की रेस से मुंबई इंडियंस, चेन्नई सुपर किंग्स, कोलकाता नाइट राइडर्स, सनराइजर्स हैदराबाद और पंजाब किंग्स की टीमें बाहर हो चुकी हैं। राजस्थान रॉयल्स की टीम का भी प्लेऑफ में पहुंचना लगभग तय है हालांकि चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ खेले जाने वाले मैच से यह तय होना बाकी है कि वो पहले क्वालिफॉयर में गुजरात टाइटंस का सामना करेगी या फिर उसे एलिमिनेटर खेलना होगा।

    लंबे समय बाद आईपीएल को मिलेगा नया चैम्पियन

    आईपीएल के इतिहास में यह बहुत लंबे समय बाद देखने को मिल रहा है कि प्लेऑफ में पहुंचने वाली टीमों में से सिर्फ एक ही टीम है जिसने इससे पहले टूर्नामेंट का खिताब जीता है, जबकि बाकी की तीनों टीमों को अभी तक अपने पहले खिताब का इंतजार है। राजस्थान रॉयल्स की टीम ने आईपीएल के पहले संस्करण में खिताब जीता था जिसके बाद से अब तक उसे दूसरी ट्रॉफी का इंतजार है। लखनऊ और गुजरात की टीमों ने पहली बार आईपीएल 2022 में कदम रखा है और शानदार प्रदर्शन करते हुए प्लेऑफ में जगह बनाने वाली पहली टीम बनी है।

  • इंटरनेशनल फ्लाइट के फिर से बढे दाम, बुकिंग मे हुई 18% की बढ़ोतरी

    कोरोना काल में बुरी तरह से प्रभावित हुए टूर एंड ट्रैवल सेक्टर की गाड़ी अब धीरे-धीरे पटरी पर आ रही रही है। कोरोना की वजह से वैश्विक स्तर पर ट्रैवल इंडस्ट्री बहुत अधिक प्रभावित हुई थी, लेकिन अब हालात साल 2019 जैसे होते दिख रहे हैं। मास्टरकार्ड इकोनॉमिक्स इंस्टीट्यूट की ओर से जारी एक रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिका में अब लोग ट्रैवल पर अधिक पैसा खर्च कर रहे हैं और यह स्थिति अब 2019 से बेहतर होती दिख रही है।

    कोविड की वजह से दुनिया भर में आवाजाही रूकने के बाद अब पहली बार ट्रैवल सेक्टर की स्थिति 2019 जैसी हो गई है। आपको याद होगा की 2019 मे फाइट के दाम कितने बढे हुए थे। इस साल के शुरुआत में हवाई किराए में करीब 18 प्रतिशत की बढ़ोतरी के बाद भी लोग घूमने-फिरने पर अधिक खर्च कर रहे हैं। रिपोर्ट में कहा गया है, “अगर फ्लाइट बुकिंग अपनी मौजूदा गति से जारी रहती है, तो पिछले साल की तुलना में इस साल वैश्विक स्तर पर फ्लाइट बुकिंग की संख्या अनुमानित 1.5 बिलियन रह सकती है।”

    पर हैं। वहीं पैसेंजर ट्रेन भी इसी तरह की बराबरी पर है। उसी तरह क्रूज की यात्रा करने वाले लोगों की संख्या में भी बहुत बढ़ोतरी हुई है। नाइट क्लब, टूरिस्ट बार और रेस्टोरेंट की बुकिंग में 31 प्रतिशत का उछाल आया है। मास्टरकार्ड इकोनॉमिक्स इंस्टीट्यूट के मुख्य अर्थशास्त्री डेविड मान का कहना है कि फ्लाइट बुकिंग में आया उछाल यह दिखाता है कि लोगों के घूमने-फिरने में बहुत बढ़ोतरी हो रही है।

  • जानिए क्या है “ब्लड रेन”, देश की इस राजधानी मे “ब्लड रेन” का अलर्ट जारी

    क्लाइमेट चेंज ने मौसमों को असामान्य कर दिया है। कहीं बारिश होती है तो होती ही रह जाती है और कहीं सूखा पड़ता है तो बूंद-बूंद पानी के लिए लोग तड़पने लगते हैं। असम में हुई बे-मौसम की भयानक बारिश ने कैसी तबाही मचाई है, उसका गवाह पूरा देश है। पिछले हफ्ते राजधानी में तापमान 50 डिग्री के करीब पहुंच चुका है। अब ब्रिटेन में ‘ब्लेड रेन’ का अलर्ट जारी किया गया है। ब्लड रेन या खून जैसी बारिश के लिए भी कहीं ना कहीं ग्लोबल वॉर्मिंग और क्लाइमेट चेंज ही जिम्मेदार है और उसके कारण हम मानव ही हैं। आइए जानते हैं कि ब्लड रेन होता क्या है और यूके में इसको लेकर क्या कुछ कहा गया है।

    17 मई को यूके में सबसे गर्म दिन रिकॉर्ड

    ग्लोबल वॉर्मिंग की वजह से जलवायु परिवर्तन का संकट धरती का हर कोना झेल रहा है। मौसम में अप्रत्याशित बदलाव नजर आ रहे हैं। एक्स्ट्रीम वेदर की घटनाएं दुनियाभर में तबाही मचा रही है। लिहाजा ठंडे देशों में भी सामान्य से बहुत ज्यादा गर्मी पड़ने लगी है और गर्म देशों में भी मौसम में काफी उलट-पुलट हो रहा है। ब्रिटेन जैसा सर्द वातावरण वाला देश भी हाल के दिनों में काफी गर्म भरे दिन झेल चुका है और तेज धूप ने वहां के लोगों को हैरानी में डाल रखा है। बीते 17 मई को यूके में साल का सबसे गर्म दिन रिकॉर्ड किया गया है। इस बीच यहां बादल गरजने के साथ धूल भरी आंधी चलने और बारिश होने की घटनाएं भी साथ-साथ पूरे देश में देखी जा रही हैं। मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक इन सबके बीच यहां के मेट ऑफिस ने मौसम की एक दुर्लभ घटना की भविष्यवाणी कर दी है।

  • पूजा सिंघल ने हेमंत सोरेन को खनन लीज आवंटित करने में भी है बड़ी भूमिका

    अनगड़ा में खनन लीज आवंटित करने में खनन सचिव पूजा सिंघल का नाम फिर से बड़ी भूमिका निभाने वाले में आ रहा है। अनगड़ा में खनन पट्टा 88 डिसमिल है। यह जानकारी ईडी ने हाईकोर्ट में गुरुवार को सीएम और उनके करीबियों को खनन लीज मामले में दायर शपथपत्र में दी है। ईडी ने कहा है किcमनी लाउंड्रिंग से जुड़े मामलों में भी शामिल हैं। इसके साक्ष्य भी स्पष्ट रूप से जांच एजेंसी के सामने आये है। इस पर चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन और जस्टिस सुजीत नारायण प्रसाद की अदालत ने सभी प्रतिवादियों को 23 मई तक जवाब देने के सख्त नीदेश दिए है।

    ईडी के सहायक निदेशक विनोद कुमार ने शपथपत्र दाखिल करते हुए कहा कि खूंटी में हुए मनरेगा घोटाले के कुछ मामलों की जांच की गयी है। यह मामला पूजा सिंघल के खूंटी डीसी रहने के दौरान का है। इस मामले में 16 प्राथमिकी दर्ज की गयी है। इसी मामले में हाईकोर्ट में एक जनहित याचिका अरुण कुमार दुबे ने दायर की है। याचिका में भी पूजा सिंघल के खिलाफ जांच का आग्रह ईडी और सीबीआई से किया गया है।

    कुछ शेल कंपनियों की भूमिका भी सामने आयी हैं

    ईडी ने कहा है कि जांच में कुछ शेल कंपनियों की भूमिका भी सामने आयी है। ये कंपनियां झारखंड से बाहर की हैं। शेल कंपनियों की जांच को लेकर दायर जनहित याचिका में इनका नाम लिया गया है। शपथपत्र में ईडी ने कोर्ट से आग्रह किया है कि अदालत में जो प्रारंभिक जांच रिपोर्ट और दस्तावेज सौंपे गए हैं, वह झारखंड पुलिस और झारखंड सरकार के नियंत्रण वाले किसी प्राधिकार को नहीं सौंपे जाएं। अभी प्रारंभिक जानकारी दी गयी है। जरूरत पड़ने पर ईडी इस मामले में पूरक शपथ पत्र दाखिल करेगी।

  • RBI के नये नियम के तहत बदल गया ATM से रुपए निकाले का तरीका

    आज कल के समय मे गूगल पै और upi पैमेंट् आ जाने से लोग ATM जना काफी कम दिया है। ड‍िजीटल ट्रांजेक्‍शन के दौर में एटीएम से कैश न‍िकालने वालों की संख्‍या में बहुत ज्यादा कमी देखी जा रही है। लेक‍िन यद‍ि आप अक्‍सर एटीएम से कैश न‍िकालते हैं तो यह खबर आपके बेहद काम की है. दरअसल, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने एटीएम से कार्डलेस न‍िकासी के ल‍िए बैंकों और एटीएम ऑपरेटर्स को आदेश द‍िए हैं | पूरी तरह बदल जाएगा कैश न‍िकासी का तरीका
    आरबीआई के इस न‍ियम के लागू होने के बाद एटीएम से कैश न‍िकालने का तरीका पूरी तरह बदल जाएगा| इसका फायदा यह होगा क‍ि कार्ड की क्‍लोन‍िंग, कार्ड स्किमिंग और दूसरे बैंक फ्रॉड कम हो जाएंगे| कार्डलेस ट्रांजेक्‍यान में कैश न‍िकालने के ल‍िए आपको डेब‍िट या क्रेड‍िट कार्ड की जरूरत नहीं होगी| इसमें आप यूपीआई पेमेंट एप जैसे पेटीएम, गूगल पे, एमेजॉन पे या फोन पे जैसे एप के जर‍िये ही एटीएम से पैसे न‍िकाल सकेंगे|

    NPCI को UPI इंटिग्रेशन का निर्देश
    आरबीआई के न‍िर्देश के बाद अब सभी बैंक और एटीएम ऑपरेटर को कार्डलेस कैश न‍िकासी का इंतजार करना होगा| र‍िजर्व बैंक की तरफ से लागू नियम के तहत कोई भी बैंक किसी भी बैंक के खाताधारक को यह सुविधा दे सकता है| इसके ल‍िए NPCI को UPI इंटिग्रेशन का निर्देश आया है|

    चार्ज में कोई बदलाव नहीं
    आपको बता दें ATM कार्ड पर फ‍िलहाल जो चार्ज लगते हैं, बदलाव के बाद भी वहीं चार्ज रहेंगे| इनमें क‍िसी तरह का बदलाव नहीं क‍िया जाएगा| इसके अलावा कैशलेस ट्रांजेक्‍शन से रकम निकासी (Cash Withdraw Rules) के ल‍िए ल‍िम‍िट भी पहले वाली ही रहेगी|

  • बेंगाबाद प्रखंड के बदवारा पंचायत के वार्ड नंबर तीन पर हिंसक झड़प

    गिरिडीह जिला अंतर्गत बेंगाबाद प्रखंड के बदवारा पंचायत में बूथ संख्या तीन पर मुखिया प्रत्याशी विभा देवी एवं उनके समर्थकों पर बूथ को कब्जा करने की नियत से हमला करने का मामला प्रकाश में आया है। प्रत्यक्षदर्शियों के जानकारी के अनुसार बदवारा पंचायत के बूथ नंबर तीन में सुचारू रूप से मतदान कार्य चल रहा था। इसी दौरान मुखिया प्रत्याशी विभा देवी अपने 40-50 समर्थकों के साथ वहां आ धमकी और जबरन मतदान केंद्र के अंदर घुसने की कोशिश करने लगी।

    सुरक्षा कर्मियों द्वारा जब उन्हें रोकने का प्रयास किया गया तो वह उनसे उलझ गए। इस दौरान उनके समर्थकों ने मतदान कर्मियों के साथ मारपीट शुरू कर दी। मारपीट में बूथ पर तैनात पी 2 अधिकारी घायल हो गए। जानकारी मिली कि मुखिया प्रत्याशी द्वारा वैलेट पेपर को भी फाड़ दिया गया एवं मतदान सम्बंधित अन्य सामग्रियों को क्षतिग्रस्त कर दिया गया। सूचना मिलते ही एसडीपीओ अनिल सिंह दल बल के साथ मौके पर पहुंचे और स्थिति को नियंत्रण में लिया। मौके पर मुखिया प्रत्याशी विभा देवी एवं उनके समर्थकों समेत आठ लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

  • त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दूसरे चरण में बाघमारा प्रखंड क्षेत्र में हुई मतदान, मतदान केंद्रो पर पुलिस बल मुस्तैद

    त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव 2022 के दूसरे चरण में आज गुरुवार 19 मई को बाघमारा प्रखंड क्षेत्र के कुल 61पंचायत में मतदाताओं ने मत देकर गांव की सरकार बनायेगे। बाघमारा प्रखंड क्षेत्र के कई पंचायतों के मतदान केंद्र जैसे राजगंज बगदाहा गोविंदाडीह के कई बूथों पर ग्रामीण मतदान को लेकर काफी उत्सुक दिखे ।मतदान केंद पर बुजुर्ग महिला पुरुष व पहली बार वोट करने युवाओं की भी काफी उत्सुकता देखी गई। सुबह7बजे से3बजे तक मतदान संपन्न हुई।

    सभी मतदानकर्मियों को मतदान पेटी को govt पोलिटिकल धनबाद में स्टोर किया गया है।कई मतदाताओं ने विकास की मुद्दे पर मतदान करने की बात कही तो कई ने पिछले प्रधान की कार्यो की उदासीनता की बात कही । शांतिपूर्ण तरीक़े से मतदान कराने में प्रशासन की मुस्तेदी देखी गई। मुस्लिम बहुल क्षेत्र गोविंदाडीह पंचायत में मतदाताओं की काफी भीड़ सुबह7 से 3बजे तक लगातार देखी गईं। राजगंज पुलिस की गश्ती दल भी राजगंज, बगदाहा, गोविंदाडीह पंचायत में गश्त कर शांति व्यवस्था बनाने में काफी सक्रियता दिखाई।

  • पत्थलगड़ा वीडियो ने पैदल मार्च कर मतदाताओं को मताधिकार के प्रति किया जागरूक

    मतदाताओं को शत प्रतिशत मतदान के लिए प्रेरित करने के उद्देश्य से प्रखंड विकास पदाधिकारी मोनी कुमारी ने पैदल मार्च कर मतदाताओं को मताधिकार के प्रति किया जागरूक, बिना किसी लालच अथवा भय के मताधिकार का प्रयोग करने का किया अपील। स्थानीय सरकार निर्माण हेतु अपना मतदान अवश्य करें, पहले मतदान फिर जलपान। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में सत प्रतिशत मतदान को लेकर वीडियो मोनी कुमारी के नेतृत्व में प्रखंड सह अंचल कार्यालय के कर्मियों ने प्रखंड मुख्यालय व प्रखंड के क्षेत्रों में चलाया मतदाता जागरूकता अभियान।

    इसी कड़ी में आज पत्थलगड़ा चौक होते हुए गुंजरी गेट से प्रखंड मुख्यालय पहुंची। प्रखंड विकास पदाधिकारी मोनी कुमारी एवं अन्य अधिकारी/कर्मी एवं स्थानीय लोगों के सहयोग से पैदल मार्च निकाला गया। इस दौरान मतदाताओं से मताधिकार का प्रयोग अवश्य करने का अपील किया गया, विशेषकर युवा मतदाताओं को मतदान के दिन अपने घरों से बाहर निकलकर जिम्मेदार नागरिक होने का परिचय देते हुए बिना किसी लालच अथवा भय के अपने मत का प्रयोग करने का अपील किया गया, जिससे प्रखंड में शत प्रतिशत मतदान सुनिश्चित कराई जा सके। जिसका मुख्य उद्देश्य मतदाताओं को मताधिकार के लिए प्रेरित करना है।

Back to top button
error: Content is protected !!