Month: May 2022

  • पुलिस ने FIR करने के बजाय दुष्कर्म के आरोपी को थाने बुला कर करा दिया समझौता

    गुमला : कामडारा थाना क्षेत्र की 14 वर्षीया नाबालिग के साथ तीन युवकों के दुष्कर्म करने की घटना सामने आयी है।. पीड़िता का आरोप है कि केस करने की बजाय कामडारा पुलिस ने उसे थाने में बुलाकर आरोपियों के साथ समझौता करने को कह दिया है. इसलिए उसने गुमला एसपी को लिखित ज्ञापन सौंपकर जांच करते हुए कार्रवाई की मांग की है. 17 मई को एसपी कार्यालय में पीड़िता और उसके परिजनों ने आवेदन दिया है।

    आवेदन में बताया गया है कि दुष्कर्म की घटना छह मई की है. पांच मई को नाबालिक परीक्षा देने गयी थी. छह मई को परीक्षा से घर लौटने के वक्त उसके ममेरे भाई उमेश का फोन आया है. उसने किशोरी से कहा कि तुम्हारी मां काे पांच सौ रुपये देना है, तुम तिर्रा आकर ले जाओ. पीड़िता अन्य चार लड़कियों के साथ ऑटो से तिर्रा आ गयी.

    लेकिन वहां उतरते ही पीड़िता को अगवा कर एक गाड़ी के सहारे उसे अगवा करके ले गए. इसके बाद उमेश व उसके दो दोस्तों ने नाबालिग के साथ दुष्कर्म को अंजाम दिया. सात मई को पीड़िता के मामा ने उमेश काे फोन किया. उसी दिन दोपहर में आरोपियों ने उसे मुरगा गांव के पास छोड़ कर फरार हो गए।

    मामले की जांच हो रही है
    थाना प्रभारी कौशलेंद्र कुमार ने कहा कि यह जांच का विषय है. हर पहलू पर जांच की जा रही है. जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है. खुद पर लगे आरोप के संबंध में उन्होंने कुछ नहीं कहा.

  • जानें क्या है ग्लोबल नाटो, क्या भारत बनेगा नाटो का सदस्य?

    विदेश। यूक्रेन युद्ध के बाद दुनिया कई खेमों में बंटी दिख रही है। दुनिया के बाद अब विश्व में अबतक का सबसे बड़ा जियोपॉलिटिकल गेम शुरू हो चुका है। इसका असर पूरी दुनिया पर होने वाला है। इस जियोपॉलिटिकल गेम के तहत पूरी दुनिया दो खेमों में बंट जाएगी। हम दुनिया के सबसे बड़े जियोपॉलिटिकल गेम की बात इसलिए कर रहे हैं, क्योंकि कुछ दिन पहले ब्रिटेन की विदेश मंत्री द्वारा ग्लोबल नाटो बनाने की बात कही गयी है और उन्होंने इसका जिक्र इंडो-पैसिफिक के लिए किया है, यानि इंडो-पैसिफिक का जिक्र होते ही पहला चेहरा भारत नजर आता है, तो सवाल ये है, कि क्या भारत ग्लोबल नाटो का सदस्य बनेगा?

    क्या है ग्लोबल नाटो का मतलब?

    नाटो में शामिल होने की जिद को लेकर ही रूस ने यूक्रेन पर हमला किया और फिनलैंड और स्वीडन ने पिछले हफ्ते नाटो में शामिल होने के लिए आवेदन भी कर दिया है। लेकिन, ब्रिटेन की विदेश मंत्री लिज़ ट्रस ने ताइवान की मदद करने के लिए एक ‘ग्लोबल नाटो’ बनाने की बात कहकर पूरी दुनिया की राजनीति को ही गर्म कर दिया है। उन्होंने कहा कि, उत्तरी अटलांटिक संधि संगठन यानि नाटो को भारत-प्रशांत क्षेत्र में सुरक्षा को बढ़ावा देने की कोशिश करनी चाहिए। ब्रिटिश विदेश मंत्री ने एक भाषण के दौरान कहा कि, ब्रिटेन ‘यूरो-अटलांटिक सुरक्षा और इंडो-पैसिफिक सुरक्षा के बीच गलत विकल्प’ के खिलाफ है। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि, ‘मेरा कहने का ये मतलब है, कि नाटो को अब ग्लोबल होना चाहिए, जिसे वैश्विक खतरों के खिलाफ खड़ा होना चाहिए’। उन्होंने ताइवान का जिक्र किया और कहा कि, इंडो-पैसिफिक में शांति के लिए हमारे सहयोगियों ऑस्ट्रेलिया और जापान के साथ काम करने की जरूरत है।

    क्या बनाया जाएगा ग्लोबल नाटो?

    ब्रिटेन की विदेश मंत्री ने एक तरह से साफ कर दिया है, कि अब एक ग्लोबल नाटो का गठन किया जाएगा। लेकिन, सवाल ये है, कि अगर ग्लोबल नाटो का निर्माण किया जाएगा, तो फिर उसमें किन किन देशों को शामिल किया जाएगा और क्या दुनिया के सभी देशों के शामिल किया जाएगा और अगर ऐसा है, तो फिर ग्लोबल नाटो लड़ेगा किससे? दरअसल, ग्लोबल नाटो के गठन को लेकर यूरोप में तेजी से बातचीत होने लगी है और चीन ने इसको लेकर सख्त प्रतिक्रिया भी दी है। और ग्लोबल नाटो को काउंटर करने के लिए चीन ने एक अलग से सिक्योरिटी ग्रुप बनाने की बात कही है, जो क्वाड के जैसा होगा। यानि, एक तरफ नाटो के देश होंगे, तो दूसरी तरफ चीन का अलग गठबंधन… यानि, दुनिया पूरी तरह से दो हिस्सों में बंट जाएगी।

  • देश के 42 केंद्रीय विवि में यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट से होगा दाखिला, 18 जून अंतिम तिथि

    सेंट्रल यूनिवर्सिटी झारखंड समेत देश के 42 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में यूजी के बाद पीजी कोर्सों में कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (सीयूईटी) के माध्यम से से ही अब यूनिवर्सिटी मे बच्चो का दाखिला हो पायेगा। केंद्रीय विश्वविद्यालयों में दाखिला राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) द्वारा आयोजित की जाने वाले संयुक्त विश्वविद्यालय प्रवेश परीक्षा-पीजी कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट के माध्यम से होगा।

    दाखिले के लिए इच्छुक उम्मीदवार को एनटीए द्वारा बनाए गए सीयूईटी पोर्टल पर जाकर आवेदन करना होगा। आवेदन की आखिरी तारीख 18 जून रात 11.30 बजे तक है। 19 जून की रात 11.50 बजे तक परीक्षा के लिए निर्धारित परीक्षा शुल्क 800 रुपए और अतिरिक्त 200 रुपए हर एक्स्ट्रा टेस्ट पेपर के लिए भरना होगा। बताते चलें कि अभी एंट्रेंस टेस्ट की तिथि घोषित नहीं की गई है।

    आवेदन की त्रुटि सुधार 20 से
    कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट के लिए आवेदन में त्रुटि सुधार की तिथि घोषित कर दी गई है। उम्मीदवार अपने सबमिट किए गए अप्लीकेशन में आवश्यक संशोधन या त्रुटि सुधार 20 से 22 जून तक कर सकेंगे।

    जुलाई के अंतिम सप्ताह में होगा टेस्ट : पोस्ट ग्रेजुएशन में एडमिशन के लिए कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट जुलाई 2022 के अंतिम सप्ताह में होने की संभावना है। हालांकि, अभी तक एंट्रेंस टेस्ट को लेकर तिथि जारी नहीं की गई है।

    सीयूजे में इस सत्र से दो नए पीजी कोर्स : सेंट्रल विवि झारखंड में इसी सेशन से पीजी स्तर के दो नए कोर्स शुरू किए जाएंगे। इसमें संस्कृत और स्टैटिस्टिक्स शामिल है। बताते चलें केंद्रीय विवि सीयूजे में पीजी स्तर के 28 कोर्स की पढ़ाई होती है।

    जेपीएससी : लेखा पदाधिकारी मुख्य परीक्षा 28 व 29 मई को

    जेपीएससी ने नगर विकास विभाग में लेखा पदाधिकारियों की नियुक्ति के लिए मुख्य परीक्षा की तिथि जारी कर दिया है। परीक्षा 28 और 29 मई को दो पालियाें में आयोजित की जाएगी। 28 मई को पहली पाली में सामान्य हिंदी व अंग्रेजी और दूसरी पाली में सामान्य अध्ययन की परीक्षा होगी।

    29 मई को पहली पाली में वैकल्पिक पेपर-एक और दूसरी पाली में में वैकल्पिक पेपर-दाे की परीक्षा होगी। पीटी पास अभ्यर्थी जेपीएससी की वेबसाइट से एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं। बताते चलें कि 166 पदों पर नियुक्ति के लिए तीन साल पहले विज्ञापन जारी किया गया था।

  • देश मे कोरोना के 2226 नए मामले, पिछले 24 घंटो मे 14955 एक्टिव मरीज़

    देश में कोरोना महामारी के हालात अब धीरे धीरे सुधर रहे हैं। इससे संक्रमितों की संख्या में काफी कम हो गयी है। रोजाना कोरोना संक्रमितों की संख्या तीन हजार से कम आने लगी है। शनिवार को स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में देश में कोविड के 2226 नए मामले सामने आए। वहीं, 2202 लोगों को स्वस्थ होने पर अस्पताल से छुट्टी मिली। देश में अब एक्टिव केसों की संख्या 14955 हो गई है।

    देश में अब तक 4,25,97,003 लोगों ने कोरोना को मात दी है। 5,24,413 कोरोना मरीजों की मौत हो गई। कोरोना की रोकथाम के लिए टीकाकरण जारी है। इस दौरान 14,37,381 लोगों ने कोरोना की वैक्सीन लगवाई। देश में अब तक 1922866524 लोगों ने कोरोना की वैक्सीन लगवा चुकी है।

    ये देश बढ़ा रहा चिंता

    भारत में कोरोना के केस भले ही कम हो गए हों, लेकिन कुछ देश अभी भी दुनिया की चिंता बढ़ा रहे। जिसमें नॉर्थ कोरिया का भी नाम शामिल है। WHO के मुताबिक पिछले हफ्ते वहां पर 2.32 लाख लोग बुखार से पीड़ित मिले। ये देश दूसरे देशों से ज्यादा संबंध भी नहीं रखता है, जिस वजह से वहां पर दवाओं, वैक्सीन आदि की भारी कमी है, जिस वजह से लोगों को ज्यादा दिक्कतें हो रही हैं।

    शनिवार को आए 2323 मामले

    वहीं, शनिवार को देश में पिछले 24 घंटों में कुल 2,323 नए मामले दर्ज किए गए थे। 556 ताजा संक्रमणों के साथ केरल में सबसे अधिक नए मामले दर्ज किए गए। सबसे अधिक मामले दर्ज करने वाले शीर्ष पांच राज्यों में 556 मामलों के साथ केरल सबसे आगे। दिल्ली में 530 मामले, महाराष्ट्र में 311 मामले, हरियाणा में 262 केस हैं और उत्तर प्रदेश में 146 मामले सामने आए थे। शनिवार को कोरोना से 25 मरीजों की मौत हुई थी।

  • पेट्रोल डीजल सस्ता होने से आम जनता को मिली बड़ी राहत

    केंद्र सरकार की ओर से पेट्रोलियम पदार्थों के मूल्य में कमी किए जाने से आम लोगों को बड़ी राहत मिली है। केंद्र सरकार ने पेट्रोल पर जहां 9 वहीं डीजल पर 7 कम किए हैं। इससे आम लोग थोड़ी राहत में आए है। लेकिन लोगों की माने तो यह अभी भी नाकाफी है। सरकार को इस पर और गंभीरतापूर्वक विचार करना चाहिए और हो सके तो मूल्य में और कमी लाने का प्रयास करना चाहिए। बता दें कि जामताड़ा जिला में पेट्रोल 21 मई तक लगभग  110 और डीजल की कीमत लगभग 102 के करीब थी। सरकार की ओर से राहत दिए जाने के बाद अब पेट्रोल की कीमत 100.21 पैसे हो गया है|

    वहीं डीजल की कीमत घटकर  95.45 हो गया है। एक लंबे अंतराल के बाद सरकार की ओर से पेट्रोलियम मूल्य में इतनी बड़ी राहत दिए जाने के बाद महंगाई पर नियंत्रण आने की संभावना भी अब लोगों को दिखने लगी है। पेट्रोलियम उत्पाद की कीमत बढ़ जाने के कारण जहां खाद्य पदार्थ सहित अन्य जरूरी चीजों की कीमतों में बढ़ोतरी हुई थी, वही इसमें अब कमी आने की संभावना बनने लगी है। जबकि आम लोगों का सरकार से अपेक्षा है कि इस दिशा में और बेहतर कदम उठाएं जिससे पेट्रोलियम उत्पाद में और कमी आ सके ताकि आम जनता पर बढ़े हुए महंगाई का असर कम हो और जीवन यापन आसान हो सके।

  • रोहित शर्मा ने बताई इस बार खराब प्रदर्शन की वजह, फैंस से कही ये बात

    इस बार का आईपीएल मुंबई के लिए अच्छा नही रहा। मुंबई इंडियन्स के कैप्टन रोहित शर्मा इस बात से बहुत ज्यादा दुखी नजर आते है। रोहित ने इस बार के आईपीएल ना जितने की वजह अपने फैंस के सामने रखी है।

    आईपीएलकी सबसे सफल टीम मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने माना कि बल्लेबाजी में काफी कुछ उनके अनुकूल नहीं रहा, लेकिन लीग के 15वें सीजन में निराशाजनक प्रदर्शन के बावजूद उनकी रातों की नींद गायब नहीं हुई और थोड़े बदलाव करने से वह फिर से फॉर्म में वापसी कर लेंगे। रोहित के लिए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2022 बेहद निराशाजनक रहा। आईपीएल के 2008 में पहले सीजन में डेब्यू करने से लेकर पहली बार ऐसा हुआ जबकि वह एक भी अर्धशतक बनाने में नाकाम रहे। इस सलामी बल्लेबाज ने 14 मैचों में 19.14 के औसत और 120.17 के स्ट्राइक रेट से केवल 248 रन बनाए।

    रोहित ने शनिवार को सीजन का अपना आखिरी मैच खेलने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘बहुत सी चीजें जो मैं करना चाहता था, उन्हें मैं नहीं कर पाया। मैं इस सीजन में अपने प्रदर्शन से बहुत निराश हूं। लेकिन ऐसा मेरे साथ पहले भी हो चुका है, इसलिए यह ऐसा नहीं है जिससे मैं पहली बार गुजर रहा हूं। मैं जानता हूं कि क्रिकेट यहीं खत्म नहीं होता, आगे हमें काफी क्रिकेट खेलनी है। इसलिए मुझे मानसिक पहलू पर ध्यान देने और इस पर विचार करने की जरूरत है कि मैं फॉर्म में कैसे लौट सकता हूं और कैसे अच्छा प्रदर्शन कर सकता हूं। थोड़े बदलाव करने होंगे और जब भी समय मिलेगा मैं इन पर काम करने की कोशिश करूंगा।’

  • अधिकतर पंचायतों की कमान महिलाओं को मिला

    खबर_गिरिडीह जिला में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के प्रथम चरण की मतगणना 21मई को समाप्त हो गई। प्राप्त परिणाम के अनुसार अधिकतर पंचायतों में कमान महिला प्रत्याशियों को मतदाताओं ने सौंपी। अधिकतर पंचायतों के महिला प्रत्याशी साक्षर है ऐसे में उन साक्षर प्रत्याशियों के कार्य उनके प्रतिनिधि ही करेंगे। सरकार और चुनाव आयोग को चुनाव मैदान में उतरने वाले प्रत्याशियों के लिए शिक्षा की एक मापदंड तय करनी चाहिए तभी क्षेत्र का विकास होगा।

    जिन पंचायत में साक्षर महिला प्रत्याशियों की जीत हुई है वहां महिला प्रत्याशी केवल हस्ताक्षर ही करेगी ना किसी आला अधिकारियों से बातचीत कर सकेगी और ना ही किसी समस्या का समाधान करने के लिए पंचायत में निकल सकेगी क्योंकि अधिकतर घरेलू कामकाज से उबर ही नहीं पाती है। सर्टिफिकेट महिला प्रत्याशी के नाम पर और सारे काम पुरूष। पंचायती राज में अफसरशाही हावी है ऐसे में कम पढ़ी लिखी होने के कारण कमान पुरूष अपने हाथों में ले लेते हैं। ऐसे में सरकार और चुनाव आयोग के द्वारा तय किए गए महिला आरक्षण का कोई औचित्य नहीं रह जाता है। आईएनएन 24न्यूज से बात करते हुए जीत दर्ज करने वाली महिला प्रत्याशियों ने क्या कहा आइए जानते हैं

  • लड़का के द्वारा युवती को पीटते वीडियो वायरल, मुख्यमंत्री ने पाकुड़ डीएम व एसपी को जांच कर कार्रवाई करने का दिया आदेश

    पाकुड़ जिले के महेशपुर थाना क्षेत्र के रोलाग्राम की एक वीडियो तेजी से वायरल हो रही है।जिसमें एक युवक एक लड़की को बुरी तरह पीटते नजर आ रहे हैं। लड़की स्कूली ड्रेस में है। रजनी मुर्मू नामक टि्वटर हैंडल के द्वारा ट्वीट की गई वीडियो में यह दर्शाया गया है कि “एक लड़का एक आदिवासी लड़की को बुरी तरह से मार रहा है और दूसरे लड़के इसकी विडियो बना रहे हैं.लड़की St Stanislaus H S hathimara पाकुड़ में पढ़ती है और लड़का रोलामारा गाँव,महेशपुर ब्लॉक, पाकुड़ जिले का है.आदिवासी महिलाओं pr लगातार हिसंक विडियो होते हैं”

    रजनी मुर्मू ने सोशल साइट के अपने टि्वटर हैंडल से झारखंड के ग्रामीण विकास विभाग के मंत्री सह पाकुड़ विधानसभा के विधायक आलमगीर आलम को टैग किया है।झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अपने ट्विटर हैंडल से रिप्लाई करते हुए पाकुड़ डीसी व एसपी को कार्रवाई करने का आदेश दिया है।इस क्रम में अनेक लोगों ने प्रतिक्रिया देकर पाकुड़ डीसी व एसपी को संज्ञान में लेकर कार्यवाही करने की मांग कर रहे हैं।

  • आंधी से उजड़ा आशियाना,प्रशासन से मदद की गुहार

     

     

    पाकुड सदर प्रखंड क्षेत्र के पिरलीपुर गांव में शुक्रवार की देर रात आई आंधी-पानी ने एक परिवार का आशियाना को ही उजाड़ कर रख दिया है।परिवार के छ: सदस्य बेघर हो गए हैं। घर के मालिक मती राजवंशी ने बताया कि वे पत्नी पली राजवंशी सहित चार बच्चे के साथ मिट्टी के बने घर में सो रहे थे।रात के करीब 3 बजे अचानक बदले मौसम के मिजाज और तेज हवा में घर के पीछे एक बड़ा नीम का पेड़ एवं एक ताड़ का पेड़ टूट कर घर के ऊपर गिर गया।हादसे में सभी लोग सुरक्षित बच गए।घर के अंदर एक गाय भी था जो भी छप्पर के निचे दब गया था जिसे स्थानीय लोगों के सहारे सुरक्षित निकाला गया।

    हालांकि इसमें किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है।घर में रखा चावल सहित अन्य सामान पूरी तरह बर्बाद हो गया है।मति राजवंशी ने बताया कि घर क्षतिग्रस्त के अलावे लगभग 15 से 20 हजार रुपये का नुक़सान हुआ है।साथ ही उन्होंने बताया कि उनका एक जवान बेटी भी है। एक तो परिवार में आर्थिक तंगी है ऊपर से परिवार के ऊपर गजब ढा गया है।पीड़ित परिवार प्रशासन से मदद की गुहार लगा रहे हैं।स्थानीय हारो राजवंशी ने बताया कि परिवार की स्थिति पहले से ही काफी दयनीय है।पीड़ित परिवार को सरकारी आवास भी नहीं मिला है भी नहीं मिला है।पीड़ित मति राजवंशी मजदूर है।किसी तरह मजदूरी कर परिवार का भरण पोषण करता है।

  • पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर यूथ कांग्रेस ने मरीजों के बीच किया फल का वितरण

     

    पाकुड़: यूथ कांग्रेस की ओर से शनिवार को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 31वीं पुण्यतिथि शनिवार को मनाया गया।यूथ कांग्रेस जिलाध्यक्ष तस्लीम आरिफ बुलेट के नेतृत्व में सोनाजोड़ी स्थित सदर अस्पताल में मरीजों के बीच फल बांटे गए।फल वितरण से पहले जिला अध्यक्ष ने मरीजों का हालचाल जाना।इस दौरान जिला अध्यक्ष तस्लीम आरीफ ने स्व. राजीव गांधी को नमन कर याद करते हुए कहा कि स्व. गांधी ने देश को एक नई दिशा दी थी।

    उन्होंने नागरिकों के बीच एक आशा का संचार किया था और भारत को विश्व के अग्रणी देशों में स्थापित किया। उन्होंने देश में कई सकारात्मक बदलाव किए थे। पंचायती राज की स्थापना कर जमीनी स्तर पर लोगों तथा विशेषकर संस्थाओं को सशक्त बनाया।इस दौरान यूथ कांग्रेस पाकुड़ के जिला महासचिव मो•नसीम आलम, पाकुड़ विधान सभा उपाध्यक्ष जलालुद्दीन शेख, अनिकुल आलम, मो० कामरूजजमान शेख,उमर फारुख, नुमान अली, तारिक अजीज, सन्नी कुमार, अजमल हुसैन, तस्लीमुद्दीन,असगर अली सहीत अन्य युवा मौजूद रहा।

Back to top button
error: Content is protected !!