Month: April 2022

  • केरेडारी :आयोजित 24 कुंडीय विराट गायत्री महायज्ञ कलश यात्रा में 11 सौ बालिका व महिलाएं ने लिया हिस्सा

    केरेडारी के कृषि फार्म मैदान में 24 कुंडीय विराट गायत्री महायज्ञ का कलश यात्रा के साथ शुभारंभ किया गया। वही कलश यात्रा मे 11 सौ बालिका एवं महिलाओ ने भाग लिया । जिसमे मुख्य अतिथि लोकप्रिय विधायक अंबा प्रसाद, सिमरिया विधायक किशुन दास, भाजपा रामगढ़ जिला प्रभारी राजू साव, सांसद प्रतिनिधि बालेश्वर कुमार, आजसू पार्टी के प्रभारी रोशन लाल चौधरी समेत सभी दल के जनप्रतिनिधि पंचायत प्रतिनिधि समेत कई बुद्धिजीवी श्रद्धालु शामिल हुए। आई एन एन 24 के संवाददाता पवन कुमार दास ने बताया की केरेडारी में भव्य गायत्री महायज्ञ का आयोजन 1991 के बाद दूसरी बार इस तरह के भब्य गायत्री महायज्ञ का आयोजन किया जा रहा हैं।

    सभी श्रद्धालुओं एवं भक्तजनों ने मिलकर घागरा डैम से जल उठा कर हो रहे महायज्ञ कृषि फार्म के मैदान के पावन धरती पर क्लास को स्थापित किया गया। वही 3 अप्रैल सुबह कलश यात्रा शाम को कथा प्रवचन के साथ 6 अप्रैल को हवन विसर्जन किया जाना है। श्रद्धालुओं में बड़ी श्रद्धा भक्ति देखी जा रही है। जय माता दी, जय श्रीराम, के नारे केरेडारी के पूरे क्षेत्र में गूंज उठे। वही अभी रामनवमी का नवरात्री भी चल रहा है। सभी गांव के आम जनता भी पूजा पाठ में लीन देखी जा रही है। चारों तरफ भगवा झंडे भी लगाए गए। इस कलश यात्रा महायज्ञ में उपस्थित संचालक अध्यक्ष सचिव कोषाध्यक्ष के साथ सैकड़ों सदस्य श्रद्धालुओं ने मिलकर कार्यक्रम को सफल बनाने में जुटे हैं।

     

  • झारखंड पंचायत चुनाव : ओबीसी आरक्षण के पद आरक्षित नहीं रहेंगे, अधिसूचना के जरिए दी गयी जानकारी

    रांची: झारखंड के पंचायती राज विभाग ने पंचायत चुनाव के लिए अधिसूचना जारी हो गयी है, जिसके तहत त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में ओबीसी आरक्षण के पद आरक्षित नहीं रहेगा और उसे अनारक्षित के रुप में मानते हुए चुनाव होगा. वहीं महिला एवं अन्य लोगों का आरक्षण पहले जैसा ही होगा । जारी अधिसूचना में बताया गया है कि झारखंड पंचायत राज अधिनियम 2001 के प्रावधानों और झारखंड पंचायत राज निर्वाचन नियमावली 2001 की धारा 16 के अलोक में अनुसूचित जाति, जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए पंचायत निर्वाचन में आरक्षित पद अधिसूचित किये जाते हैं.

    वहीं अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षण के संबंध में सुप्रीम कोर्ट द्वारा आदेश पारित किया गया है. झारखंड निर्वाचन आयोग ने पंचायत चुनाव के कार्यक्रम प्रेषित करते हुए कहा है कि सुप्रीम कोर्ट ने अन्य पिछड़ा वर्ग के आरक्षण के लिए स्थिति स्पष्ट करने को कहा है. मालूम हो कि आरक्षण संबंधी मामला सुप्रीम कोर्ट के आदेश और निर्वाचन आयोग के अनुरोध के अलोक में राज्य सरकार के पास विचाराधीन था.

    जिसके बाद सरकार ने ये फैसला लिया कि जिला दंडाधिकारी द्वारा त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव 2022 के गजट में अधिसूचित अन्य पिछड़े वर्गों के लिए यथावत रुप में जिसके लिए जो पद अधिसूचित हो उसे खुली श्रेणी में सीटों के रुप में मानते हुए त्रिस्तरीय आम निर्वाचन में नाम निर्देशन से लेकर सभी निर्वाचन प्रक्रिया की कार्रवाई पूर्ण की जाएगी.

    विभाग के इस सूचना के साथ ही ओबीसी आरक्षण को लेकर स्थिति स्पष्ट हो चुकी है और उसी के अनुसार प्रत्याशी सीटों को लेकर तैयारी शुरू करेंगे. हलांकि पंचायती राज विभाग ने फिलहाल तारीखों की घोषणा नहीं की है लेकिन उम्मीद जतायी जा रही है कि जल्द ही इसकी घोषणा भी हो जाएगी. लेकिन मिली जानकारी के अनुसार मई के महीने में चुनाव संपन्न हो सकता है व जून के माह में परिणाम जारी होगा.

  • लोहरदगा : तेज रफ्तार मारूति आल्टो ने दो बच्चे को मरी टक्कर, एक की मौत दूसरे की स्थिति नाजुक

    लोहरदगा जिला के सेन्हा थाना क्षेत्र के ग्राम भड़गाव में तेज रफ्तार मारूति आल्टो कार (JH08B2666) ने दो बच्चे को आपने चपेट में ले लिया। एक बच्चे की मौत हो गयी। वही दूसरे बच्चे की स्थिति काफी नाजुक थी। जानकारी के अनुसार तेज रफ्तार से आ रही मारूति आल्टो ने घर के बाहर खेल रहे दो बच्चे को अपने चपेट में ले लिया जिससे दोनों बच्चा गंभीर रूप से घायल हो गये। परिवार वालों ने 108 एंबुलेंस के सहायता से तत्काल इलाज हेतु लोहरदगा सदर हॉस्पिटल लाया।

    जहां पर डॉक्टर गणेश मालिक, डॉक्टर कीर्ति पटेल, डॉक्टर जियारत हुसैन के द्वारा घायल बच्चे का प्राथमिक उपचार किया गया। वहीं चिकित्सकों ने एक बच्चे की मृत्यु की पुष्टि की। वहीं दूसरे बच्चे की स्थिति काफी नाजुक बताया जा रहा है। इधर घायल की स्थिति नाजुक देखते हुए बेहतर इलाज के लिए रांची रिम्स रेफर किया गया। साथ ही घायल बच्ची की पहचान सेन्हा थाना क्षेत्र के ग्राम भड़गांव निवासी सुखराम उरांव का 8 वर्षीय पुत्री सिवानी उरांव बताया जा रहा है। वहीं मृतक बच्चे की पहचान भड़गांव निवासी छोटू उरांव का 12 वर्षीय पुत्र रोहित उरांव के रूप में हुई है।

    जानकारी के अनुसार गंभीर रूप से घायल हुए बच्ची को बेहतर इलाज हेतु रांची रिम्स ले जाने के क्रम में बेड़ो के समीप दम तोड़ दी है जिससे परिवार वालों में दुःखों का पहाड़ टूट पड़ा है। इधर सेन्हा थाना पुलिस के द्वारा चालक को गिरफ्तार कर लिया गया है और आगे की कार्रवाई में जुट गए हैं।

  • तीन पत्नियों के विवादो ने ले ली पति की जान, पहली पत्नी को करता था प्रताड़ित

    जमशेदपुर । झारखंड के जमशेदपुर के गुड़ाबांदा में हुई लादू हाईबुरू(35)की हत्या हो गयी है। हत्या की पुष्टि पुलिस वालो ने की है। हत्या लादू की तीन पत्नियों के बीच विवाद के चलते उनकी हत्या कर दी गयी। पहली पत्नी को लादू प्रताड़ित करता था, जिसका विरोध उसके मायके वाले करा करते थे। इसलिए एक बैठक के दौरान उनके बीच विवाद हुआ और वहीं उसकी पिटाई की गई। पिटाई के बाद उसे लापता कर दिया गया। पुलिस ने लादू हत्याकांड का खुलासा कर दिया है।

    चेहरा जला दिया गया मृतक का, आरोपियों में नाबालिग भी

    इस हत्याकांड में पुलिस ने गुड़ाबांदा के दुमासाई के सिंगराय सोय उर्फ मंटू सोय और लखन सोय को गिरफ्तार किया है। इनके अलावा दो नाबालिग भी शामिल हैं। उनकी निशानदेही पर शव को छोटा बोतला के दुबला बेड़ा के पास एक कुएं से बरामद किया गया। उसकी हत्या के लिए चेहरा जला दिया गया था, ताकि कोई उसे पहचान न सके।

    इस मामले की जानकारी देते हुए एसएसपी डॉ. एम तमिल वाणन ने अपने कार्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में बताया कि गुड़ाबांदा के दुमासाई टोला अंतर्गत माड़ोतोलिया गांव में निवासी लादू हाईबुरू (35) के लापता होने की सूचना मिली थी। इस संदर्भ में गुड़ाबांदा थाने में 25 मार्च को मामला दर्ज किया गया। सूचना के बाद पुलिस ने जब तहकीकात शुरू की तो लादू के घर में जाकर परिजनों से पूछताछ की। यहां पता चला कि 16 मार्च को लादू गोहाल पर्व के दिन गांव के कुछ लोगों के साथ गया था। उसके बाद उसका कुछ पता नहीं चला। लेकिन लादू की मां ने पुलिस को बताया कि मेला में जाने के बाद उसकी मुलाकात उसकी पहली पत्नी के दो सालों से हुई। उनलोगों ने ही उससे मारपीट की थी।

    दो पत्नियों से अच्छा तो एक से खराब चल रहा था संबंध

    उसके बाद पुलिस ने लादू के सालों को पकड़ा और पूछताछ में पूरे मामले का खुलासा हो गया। लादू पर उसकी पहली पत्नी ने मारपीट का आरोप लगाया था। लादू ने तीन महिलाओं से शादी की थी, लेकिन दो से तो उसका व्यवहार ठीक था, लेकिन एक से नहीं था। इसपर जवाब तलब करने के लिए उनके द्वारा बैठक बुलाई गई थी और वहीं उसकी पिटाई कर बैठक से ही उठाकर ले गए और फिर उसकी हत्या कर दी। उद्भेदन में प्रशिक्षु आईपीएस प्रवीण पुष्कर, डीएसपी चंद्रशेखर आजाद, प्रीनन थाना प्रभारी गुड़ाबांदा, विनोद थाना प्रभारी डुमरिया, दारोगा मणिकांत आदि मौजूद थे।

  • अंतरराज्यीय अफीम तस्करों के विरुद्ध चतरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता, अवैध अफीम के साथ दो तस्कर गिरफ्तार

    चतरा एसपी राकेश रंजन के खुफिया तंत्र ने एक बार फिर तस्करों के विरुद्ध दिलों में मचाई खलबली। अंतरराज्यीय अफीम तस्करों के विरुद्ध पुलिस को मिली बड़ी सफलता, अवैध अफीम के साथ बिहार के दो तस्कर चतरा में गिरफ्तार। चतरा पुलिस की ओर से लगातार  अवैध अफीम तस्करों के विरुद्ध बड़ी कार्रवाई हो रही है।

    चतरा अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अविनाश कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि चतरा पुलिस अधीक्षक महोदय राकेश रंजन को  गुप्त सूचना मिली थी की राजपुर थाना क्षेत्र के लूटूदाग गांव से कोल्हैया के तरफ अफीम तस्कर अफीम लेकर आने वाले हैं, सूचना का सत्यापन एवं आवश्यक कार्रवाई हेतु चतरा SDPO अविनाश कुमार के नेतृत्व में छापामारी टीम का गठन किया.

    गठित छापामारी टीम ने राजपुर थाना क्षेत्र के कोल्हैया गांव के बघहा मोड़ पर छापेमारी कर 5 किलो 166 ग्राम केन सहित अवैध अफीम के साथ 2 अफीम तस्कर को किया गिरफ्तार। गिरफ्तार युवक के पास से दो स्टील के केन में कुल 5 किलो 166 ग्राम अवैध अफीम, एक हीरो होंडा मोटरसाइकिल व 250 रुपया नगद बरामद किया गया है।

    गिरफ्तार युवक में बुधन कुमार उम्र करीब 21 वर्ष व ब्रह्मदेव कुमार उम्र करीब 18 वर्ष दोनों थाना धनगाई जिला गया बिहार के रहने वाले हैं। छापेमारी दल में शामिल चतरा अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अविनाश कुमार, थाना प्रभारी विकास पासवान, राजेश कुमार शर्मा एवं सशस्त्र बल के जवान थें शामिल।

  • जमुआ : नव संवत्सर की शुरुआत में आर एस एस व विश्व हिंदुपरिषद ने निकाली अबतक की सबसे बड़ी रैली

    जमुआ | जमुआ प्रखंड मुख्यालय के समीप पंच मन्दिर प्रांगण से शनिवार को आर एस एस व विश्व हिंदू परिषद के संयुक्त तत्वावधान में भगवा रैली निकाली।रैली में जमुआ के विभिन्न गांवों के युवा शामिल हुए ।जिसकी अगुवाई पवन कुमार बालगोविंद यादव,सुनील राय,मनोज हजरा,नितेश कुमार,पीयूष कुमार,प्रभात प्रभाकर,दिनेश गुप्ता ,लखन मण्डल,प्रवीण प्रभाकर,संजय कुमार,अमित कुमार,रामरतन यादव,अंकेश कुमार,गणेश कुमार,और संदीप कुमार ने की।

    भगवा ध्वज लेकर युवा पूरे जोश व उमंग से भरकर वंदे मातरम भारत माता की जय सहित नारे उच्च स्वर में लगाये जा रहै थे।हजारों युवक सड़क पर उतरे।इस बाबत रैली की अगुवाई कर रहे बालगोविंद यादव एवं सुनील कुमार ने कहा राष्ट्र सर्वोपरि है।कहा राष्ट्र की आन बान शान में कोई भी ताक़त हाँथ नही लगा सकता है।कहा कि हम राजनीति नही करते पर भारत की एकता अखंडता की रक्षा के लिए काम करते हैं।कहा सनातन संस्कृति की ओर पूरी दुनियां हसरत भरी निगाह से देख रहा है।भारत महाशक्ति बनकर उभरा है।भारत की ताकत को सभी जान और मान रहे हैं ।कार्यक्रम मे राजेन्द्र यादव,राजेन्द्र राय,कैलाश प्रसाद साहू,नरेश यादव,लखन मण्डल,महेंद्र यादव सहित पुराने लोग भी दिखे।

  • कालूबथान पुलिस ने छापेमारी कर लगभग 150 टन कोयला किया जब्त, संचालक पर हुआ FIR दर्ज

    निरसा अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी लगातार दो दिनों से अवैध कोयल छापामारी का अभीयान चला रहे हैं। निरसा पुलिस ने करवाई की है , जीतन दास के भट्ठा जय माँ विंध्यवासिनी में छापा, 40 टन स्टीम कोयला सहित ट्रक जप्त किया। वहीं कालूबथान ओपी क्षेत्र के रमाशंकर सिंह के मां कालि कोक व लेदाहड़िया स्थित सीएमआर भट्टा में कालूबथान पुलिस ने शनिवार को दबिश दी। इस दौरान उन्होंने छापेमारी कर भारी मात्रा में अवैध कोयला को जप्त किया है।

    इस संबंध में ओपी प्रभारी प्रदीप राणा ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि सी एम आर भट्टा में अवैध कोयले को स्टॉक कर कारोबार किया जा रहा है जिसके बाद वरीय पुलिस अधीक्षक के आदेश अनुसार छापेमारी की गई है। जहां से लगभग 25 टन अवैध कोयला को जप्त किया गया है तथा भट्टा संचालक अमन सिंह और केशव मांझी पर एफ आई आर दर्ज किया गया है। ओपी प्रभारी ने कहा क्षेत्र में किसी भी हाल में अवैध कारोबार को पनपने नहीं दिया जाएगा। पुलिस द्वारा छापामारी अभियान लगातार जारी रहेगी। जब्त कोयले को ट्रैक्टर के माध्यम से कालूबथान ओपी लाया गया। छापेमारी के दौरान कालूबथान ओपी प्रभारी प्रदीप राणा के साथ ओपी के पुलिस बल मौजूद थे।

  • झारखण्ड : बढ़ गयी किसानों की धान क्रय की तिथि, इस वर्ष 220 अधिक धान क्रय केंद्र बने

    रांची : झारखंड में किसानों से धान क्रय की तिथि बढ़ गयी है. सरकार अब 15 अप्रैल तक किसानों से धान खरीदेगी करेगी. इस संबंध में खाद्य आपूर्ति विभाग द्वारा पत्र जारी किया है. विभाग द्वारा जारी पत्र में लिखा है की पूर्व में 31 मार्च तक धान क्रय की तिथि बढ़ा दी गयी है।विभाग द्वारा धान क्रय की अब तक की स्थिति की भी जानकारी दी गयी है.

    वर्ष 2021-22 में कुल आठ लाख मीट्रिक टन धान क्रय का लक्ष्य रखा गया था, जो की वर्ष 2020-21 की तुलना में 1.80 लाख मीट्रिक टन अधिक है. वर्ष 2020-21 में कुल 6.085 लाख मीट्रिक टन के विरुद्ध 30 अप्रैल 2021 तक 6.22 लाख मीट्रिक टन धान की क्रय की गयी थी. जबकि वर्ष 2021-22 में 31 मार्च तक पिछले वर्ष की तुलना में 0.53 लाख मीट्रिक टन अधिक धान का क्रय किया गया है.

    इस वर्ष सभी जिलों में धान क्रय का कार्य झारखंड राज्य खाद्य असैनिक आपूर्ति निगम लिमिटेड द्वारा किया जा रहा है. जबकि पिछले वर्ष पलामू, गढ़वा एवं चतरा में भारतीय खाद्य निगम द्वारा क्रय किया गया था. राज्य में अब तक 270974 किसानों ने धान बेचने के लिए अपना निबंधन कराया था, जो गत वर्ष की तुलना में 63206 अधिक है. धान बेचने को लेकर निबंधन कार्य अब भी जारी है.

    अब तक 499 करोड़ का भुगतान

    पिछले वर्ष की तुलना में अब तक किसानों को भुगतान भी अधिक हुआ है. पिछले वर्ष 311 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया था, जबकि इस वर्ष अब तक 499 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया है. इस वर्ष पिछले वर्ष की तुलना में अब तक 188 करोड़ रुपये अधिक का भुगतान किया गया है.

    इस वर्ष 220 अधिक धान क्रय केंद्र बनाये गये

    इस वर्ष धान क्रय को लेकर पिछले वर्ष की तुलना में 220 अधिक केंद्र बनाये गये हैं. पिछले वर्ष 677 केंद्रों पर धान का क्रय किया गया था, इस वर्ष 897 केंद्रों पर धान का क्रय किया जा रहा है. किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य का 50 फीसदी राशि का भुगतान यथाशीघ्र किया जा रहा है.

  • झारखण्ड : हुआ मिनी गन फैक्ट्री का खुलाशा, हथियार के साथ गन बनाने वाली मशीन बरामद

    झारखंड के दुमका जिले में कोलकाता एसटीएफ ने मिनी गन फैक्ट्री मिलने का दवा किया है . स्थानीय पुलिस के सहयोग से इस दौरान अर्धनिर्मित हथियार के साथ गन बनाने वाली मशीन भी बरामद हुई है. मौके पर एक महिला समेत छह आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. इस कार्रवाई के लिए कोलकाता एसटीएफ की 15 सदस्यीय टीम दुमका पहुंची हुई है.

    हथियार के साथ गन बनाने वाली मशीन बरामद

    कोलकाता की स्पेशल टास्क फोर्स यानी एसटीएफ की टीम ने झारखंड के दुमका में स्थानीय पुलिस के सहयोग से दुमका मुफस्सिल थाना क्षेत्र के सरुवा गांव में एक दो मंजिला घर से अर्धनिर्मित मिनी गन फैक्ट्री का खुलासा किया है. बंगाल की कोलकाता स्पेशल टास्क फोर्स और दुमका मुफस्सिल थाना पुलिस की संयुक्त कार्रवाई में 7 mm की 25 निर्मित पिस्तौल के अलावा भारी मात्रा में अर्धनिर्मित हथियार के साथ गन बनाने वाली मशीन बरामद हुई है. पुलिस लगातार जांच कर रही है. गन फैक्ट्री में काम कर रहे कई लोगों को पुलिस ने पकड़ा है.

    कोलकाता एसटीएफ की 15 सदस्यीय टीम दुमका में

    जानकारी के अनुसार कोलकाता टास्क फोर्स के द्वारा कोलकाता में एक व्यक्ति राजेन्द्र प्रसाद उर्फ मकबूल हुसैन को पिस्तौल के साथ गिरफ्तार किया गया था. जिससे पूछताछ में यह खुलासा हुआ था. उसकी निशानदेही पर पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है. कार्रवाई के लिए कोलकाता एसटीएफ की 15 सदस्यीय टीम दुमका पहुंची हुई है.

    महिला समेत छह गिरफ्तार

    इस मामले में कोलकाता पुलिस ने मिनी गन फैक्ट्री में कार्य कर रहे पांच लोगों तथा एक महिला को गिरफ्तार किया है. पुलिस उनसे इस गैंग में शामिल अन्य अपराधियों और उसके किंगपिन के बारे में जानकारी जुटा रही है. उक्त मकान में पिस्तौल निर्माण के लिए आधा दर्जन मशीन भी लगी हुई है. पिस्तौल बनाए जाने के लिए बड़ी मात्रा में लोहे के बार भी बरामद हुए हैं, जिससे हजारों पिस्तौल बनायी जा सकती थी.

  • झारखण्ड के सभी सरकारी अस्पतालों में ओपीडी सेवा बंद, मरीज़ो को हो रही परेशानी

    डॉ अर्चना शर्मा को आत्महत्या (Dr Archana Sharma) के लिए उकसाने के विरोध में आज झारखंड के सभी सरकारी और निजी अस्पतालों में ओपीडी सेवा बंद कर दी गयी है. जिसका प्रभाव शाम 7 बजे तक देखा जायेगा. इसका असर सुबह से ही राज्य के सबसे बड़े अस्पताल रिम्स में दिख रहा है . जिसके कारण मरीजों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. इमर्जेंसी काउंटर पर केवल गंभीर मरीजों का ही रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है।

    क्योंकि अस्पतालों की इमरजेंसी सेवाएं बाधित नहीं की गयी हैं, बता दें कि इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आइएमए), डॉक्टर वीमेन विंग और झारखंड राज्य स्वास्थ्य संगठन (झासा) के बैनर तले चिकित्सक आंदोलनरत हैं. वह रांची की बेटी डॉ अर्चना को आत्महत्या के लिए उकसाने का विरोध कर रहे हैं.

    यहां बता दें कि पिछले दिनों डॉ अर्चना शर्मा (Dr Archana Sharma) ने राजस्थान के दौसा जिले में आत्महत्या कर ली थी. डॉक्टरों की मांग है कि दोषियों को कठोर सजा मिले. साथ ही भविष्य में ऐसी घटना नहीं हो, इसे सुनिश्चित किया जाये.

    वैकल्पिक व्यवस्था तैयार है :

    इधर, रिम्स और सदर अस्पताल में भी ओपीडी सेवाओं के प्रभावित होने की संभावना है, लेकिन आधिकारिक रूप से ओपीडी बंद नहीं किया गया है. रिम्स अधीक्षक डॉ हीरेंद्र बिरुआ ने बताया कि ओपीडी सेवा बंद नहीं की गयी है, लेकिन अगर कोई बाधा होती है, तो वैकल्पिक व्यवस्था भी बनायी गयी है. सदर अस्पताल रांची के उपाधीक्षक डॉ अनिल खेतान ने बताया कि आइएमए और झासा का आह्वान है, इसलिए आपीडी सेवाएं बाधित रहेंगी.

Back to top button
error: Content is protected !!