Month: April 2022

  • हजारीबाग : अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार एसोसिएशन का 14 वां स्थापना दिवस मनाया

    हजारीबाग | अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार एसोसिएशन के द्वारा मां भद्रकाली परिसर के होटल पंचवटी प्लाजा में 14 वां स्थापना दिवस मनाया गया। कार्यक्रम के संचालक हजारीबाग जिला अध्यक्ष किशोर कुमार सिंह ने किया। इसमें मुख्य अतिथि राष्ट्रीय अध्यक्ष सुरेश सिंह तोमर एवं विशिष्ट अतिथि हाई कोर्ट रांची से सोलंकी जी राष्ट्रीय सचिव सीमा सिंह एवं प्रदेश अध्यक्ष अरविंद कुमार की अगुवाई में कार्यक्रम को सफल बनाया गया। राष्ट्रीय अध्यक्ष के द्वारा प्रखंड से लेकर के देश लेवल तक मानव का अधिकार एवं आनंद हो रही है जिसकी विचार उन्होंने विस्तृत रूप से रखें और हम सभी इस संगठन से जुड़े सभी कार्यकर्ता को क्षेत्र में काम करने के लिए पुरजोर तरीके से इन बातों को रखें।

    हजारीबाग जिला अध्यक्ष किशोर कुमार सिंह ने कहा नए अपने क्षेत्र में पुनर्वास विस्थापन को लेकर के मानव की जो हनन हो रही है। अपने बातों को विस्तृत रूप से रखा और राष्ट्रीय अध्यक्ष तक इस मामला को मानवाधिकार आयोग में उठाने के लिए निवेदन किया ताकि विक्रम पूरा क्षेत्र की इस समस्या से निजात दिला सके ।कार्यक्रम में उपस्थित प्रदेश महासचिव, प्रदेश विधि सचिव, महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष, जिला सदस्य, सहित चतरा हजारीबाग के तमाम पदाधिकारी गण तथा सदस्य कार्यक्रम में उपस्थित हुए और अपने अपने विचार रखें।

  • रामनवमी को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने को ले नव पदस्थापित SP ने मोटरसाइकिल से देर रात्रि शहरी क्षेत्र का किया परिभ्रमण

    लोहरदगा |  रामनवमी त्योहार को संपन्न कराने को लेकर पुलिस प्रशासन लगातार मशक्कत कर रही है। इसी क्रम में लोहरदगा के नव पदस्थापित पुलिस अधीक्षक आर रामकुमार, के अगुवाई में पुलिस प्रशासन के अधिकारियों के संयुक्त टीम ने देर रात्रि लगभग 1:30 बजे ममोटरसाइकिल से शहर के विभिन्न चौक चौराहों और प्रमुख मार्गों का परिभ्रमण कर सुरक्षा स्थिति का जायजा लिया। इस दौरान जिले के अधिकारियों ने चौक चौराहे पर रुक कर टोपोग्राफी और भौगोलिक स्थिति का निरीक्षण किया। त्यौहार के दौरान शहर में विधि व्यवस्था बनाए रखने को लेकर संभावित पहलुओं पर मौके पर पुलिस अधीक्षक ने पुलिस पदाधिकारियों से आपसी परिचर्चा किया ।विधि व्यवस्था बिगड़ने स्थिति पर उनसे निपटने की रणनीति बनाई गई ।

    शहर के संवेदनशील स्थानों का निरीक्षण कर संवेदनशीलता से जायजा लिया। निरीक्षण के दौरान शांति व्यवस्था भंग करने वाले उपद्रवी को भी मर्यादा में रहने का संदेश दिया गया। वही मौके पर पुलिस अधीक्षक आर रामकुमार ने INN 24 न्यूज़ से विशेष बातचीत करते हुए कहा कि त्यौहार के दौरान स्थानीय प्रशासन सुरक्षा व्यवस्था को लेकर चाक-चौबंद तैयारी पूरी कर लिया है। किसी भी स्थिति से निपटने की पूरी तैयारी कर ली गई है । पुलिस अधीक्षक ने कहा कि संवेदनशील स्थानों पर विशेष रणनीति के तहत सुरक्षा व्यवस्था बहाल रहेगी ।रामनवमी के दौरान सीसीटीवी ,ड्रोन कैमरा , वीडियोग्राफी समेत अत्याधुनिक उपकरणों का इस्तेमाल किया जाएगा। मौके पर हेड क्वार्टर डीएसपी परमेश्वर प्रसाद, एएसपी अभियान दीपक पांडे, सदर थाना प्रभारी मंटू कुमार, पंकज शर्मा, शशी शेखर, समेत अन्य पुलिस अधिकारी मौजूद थे।

  • कोलियरी कर्मचारी संघ ने वेतन में गड़बड़ी को लेकर किया विरोध प्रदर्शन

    लोदना क्षेत्रीय कार्यालय के समक्ष धनबाद कोलियरी कर्मचारी संघ गोलकडीह परियोजना कार्यालय के समक्ष संयुक्त मोर्चा ने वेतन में गड़बड़ी को लेकर शुक्रवार को विरोध प्रदर्शन कर रहे है । इस अवसर पर धकोकसं के नेता अजय देव ने कहा कि बीसीसीएल प्रबंधन मनमानी रवैया अपनाकर मजदूरों की हाजिरी में घोटाला कर समुचित वेतन का भुगतान नहीं कर पा रहे है । जिससे कर्मियों को आर्थिक नुकसान हो रहा है। प्रबंधन जब तक कर्मियों की काटी गयी पंद्रह दिनों की हाजिरी का वेतन के रूप में भुगतान नहीं देंगे , तब तक डीसीकेएस व संयुक्त मोर्चा के समर्थकों का प्रबंधन के खिलाफ आंदोलन चलता रहेगा रहेगा।

    उन्होंने कहा कि उच्च प्रबंधन एक तो कोलनेट की जगह सैप नेट लागू कर कर्मियों की हाजिरी में लगातार गड़बड़ी कर उसके वेतन में कटौती कर कर्मियों को परेशान कर रही है। ऊपर से अब 45 दिनों की हाजिरी की जगह कर्मियों को 15 दिन की हाजिरी में घोटाला कर 30 दिनों की हाजरी की भुगतान की जा रही है। इसको लेकर सड़क से लेकर कोर्ट तक न्याय के लिए संघर्ष की जायेगी। मौके पर रामनाथ गोप, अजय देव, दयाराम सिंह यादव, इस्माइल मल्लिक, राजकिशोर गुप्ता, पलटन बाउरी, मुन्ना राजभर, मंगरू बरई, अधीन सिंह, महेंद्र प्रसाद, गणेश कुमार, ओमप्रकाश ओझा , हीरालाल गोराई, राजीव सिंह, जगदीश साव, सुमन, देवेन्द्र, देव रंजन दास, तेजेन्द्र वर्मा आदि थे।

  • 40 कब्जाधारियों के खिलाफ नोटिस, राजकीय पॉलीटेक्निक धनबाद की दो एकड़ जमीन कब्जा करने का है आरोप

    धनबाद। राजकीय पॉलीटेक्निक धनबाद की दो एकड़ जमीन पर 40 लोगों ने कब्जा कर के रखा है। सभी को कब्जा हटाने का निर्देश लगातार दिए जा रहे है। पॉलीटेक्निक कॉलेज के प्राचार्य ने कब्जाधारियों को अपनी जमीन पर दावा संबंधी कागजात सात दिन में जमा करने का अनुरोध किया है। प्राचार्य की ओर से जारी नोटिस में बताया गया कि पहले भी अतिक्रमणकारियों की पहचान कर उन्हें कागजात जमा करने का निर्देश दिया गया था, लेकिन अधिकतर लोगों ने न तो कागजात जमा किया और न ही पक्ष रखा है।

    यह अंतिम मौका है। इसके बाद अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की जाएगी। मालूम हो कि पॉलीटेक्निक के नाम धनबाद अंचल के विशुनपुर मौजा में 79.30 एकड़ जमीन है, जिसपर बड़ी संख्या में लोगों ने कब्जा कर रखा है। कब्जाधारियों की पहचान के लिए जिला प्रशासन की ओर से अमीन रखकर जमीन की नापी की गई थी। नापी के आधार पर ही कब्जाधारियों की पहचान की गई है।

  • हजारीबाग पुलीस को मिली बडी सफलता केरेडारी थाना क्षेत्र से पांच नक्सली को किया गिरफ्तार

    हजारीबाग | हजारीबाग के केरेडारी थाना क्षेत्र अंतर्गत प्रतिबंधित नक्सली संगठन लल्लन जेपीसी के नाम से कार्यरत कोल कंपनी में फायरिंग करते हुए दहशत फैलाने की कोशिश की गई थी। तदोपरांत पुलिस अधीक्षक हजारीबाग के द्वारा एक टीम का गठन कर लगातार छापेमारी एंव निगरानी किया जा रहा था इसी क्रम में पुलिस अधीक्षक को गुप्त सूचना मिली थी कि केरेडारी थाना क्षेत्र अंतर्गत मनातू और लाजीदाग क्षेत्र में प्रतिबंधित नक्सली संगठन जेपीसी के कमांडर व सदस्य किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के उद्देश्य से एकत्रित हुए हैं।

    पुलिस द्वारा कार्रवाई करते हुए सीआरपीएफ की बटालियन पुलिस की संयुक्त टीम का गठन करते हुए योजनाबद्ध तरीके से क्षेत्र में अभियान चलाया गया । अभियान के दौरान हजारीबाग पुलिस व सीआरपीएफ बटालियन की कामयाबी मिली है । बता दें कि इस पूरे मामले में पांच उग्रवादियों को गिरफ्तार किया गया है। जिनका पहले भी अपराधिक इतिहास रह चुका है जिनके पास से कई सामग्रियां बरामद की गई है। बड़े पैमाने पर सामग्रियों भी बरामद किया गया। और पर्चा और एक काले रंग की स्कॉर्पियो गाड़ी बरामद किया गया है । उक्त जानकारी शुक्रवार को एसपी हज़ारीबाग ने प्रेस वार्ता के दौरान दी

  • माओवादी संगठन के हार्डकोर नक्सली किया प्रशासन के समक्ष आत्मसमर्पण

    आत्म समर्पण नीति नई दिशा के तहत लोहरदगा न्यू पुलिस लाइन में बुधवार को माओवादी संगठन के हार्डकोर नक्सली उपायुक्त एवं पुलिस कप्तान के समक्ष किया आत्मसमर्पण लोहरदगा न्यू पुलिस लाइन में भाकपा माओवादी संगठन के हार्डकोर नक्सली सूरजनाथ खेरवार ने सरकार की आत्मसमर्पण नीति नई दिशा के तहत बुधवार को आत्मसमर्पण किया। मौके पर उपायुक्त वाघमारे प्रसाद कृष्ण ने कहा सरकार की नीति उग्रवादी संगठन के लिए काफी लाभदायक है। जो मुख्यधारा से जुड़ने का अवसर प्रदान करती है। बताते हुए उन्होंने कहा अन्य उग्रवादियों को इस धारा से जुड़ कर जीवन सवारने का अवसर प्रशासन की ओर से सरकार की नीति के तहत दिया जाएगा।

    साथ ही उन्होंने कहा उन उग्रवादियों के लिए जीवन वरदान साबित होगा जो इस नीति को अपना कर अपने मुखयधारा से जुड़ परिवार के भविष्य सवारने का कार्य कर सकते हैं। आयोजित आत्म समर्पण नीति कार्यक्रम के दौरान पुलिस कप्तान प्रियंका मीना ने बताया कि डबल बुल अभियान के तहत अतिनक्सल प्रभावित क्षेत्र में लगतार उग्रवादियों के विरुद्ध जिला पुलिस,जगुआर,कोबरा,सैट के द्वारा सर्च अभियान चलाया जा रहा था। जिसमें कुछ उग्रवादियों को अपना जीवन मुठभेड़ के दौरान गबाना पड़ा। और कुछ माओवादी संगठन के उग्रवादी गिरफ्तार हुए। जिसको लेकर माओवादी संगठन के एरिया कमांडर सूरजनाथ खेरवार रविन्द्र गंझू के दस्ते से निकल खुद को बचाते हुए प्रशासन के समक्ष आत्मसमर्पण किया।

    आत्म समर्पण के दौरान हार्डकोर नक्सली को पुष्पगुच्छे एवं सरकार नीति के तहत दिए जाने वाले राशि में से एक लाख का चेक प्रदान किया गया। अभियान एस पी ने बताया कि डबल बुल अभियान बुलबुल गांव के नाम पर रखा गया है। जिसके तहत उन जंगली क्षेत्र में उग्रवादियों के विरुद्ध संयुक्त सर्च अभियान में मुहं तोड़ जवाब दिया गया। जिसमें कुछ लोग आज भी पुलिस के नजर से छुपते फिर रहें है। जिसपर आगे भी कारवाई किया जाएगा। साथ ही बताया गया कि हार्डकोर नक्सली पेशरार थाना अंतर्गत बुलबुल ग्राम निवासी बालकिशुन खेरवार का पुत्र है। जो मुखयधारा से भटक कर संगठन का दामन थाम लिया था। सूरजनाथ खेरवार लोहरदगा स्थित संचालित शांति आश्रम में कक्षा एक में अध्ययनरत था। 2013-14 में भाकपा माओवादी संगठन के रविन्द्र गंझू द्वारा प्रत्येक गांव से एक एक बच्चा का मांग किया गया था। और परिजनों को धमकी दी गई थी।

    जिसके डर से लोग मुखयधारा से भटक गए और संगठन के लिए कार्य करना आरम्भ कर दिया। जानकारी देते हुए बताया गया कि माओवादी के एरिया कमांडर सुरजनाथ खेरवार पेशरार थाना के अलावे सेरेंगदाग,विशुनपुर,चंदवा थाना में विभिन्न कांडों में संलिप्त होने की पुष्टि की गई है। वही सुरजनाथ खेरवार ने कहा कि संगठन में मतभेद हावी हो गया है। सभी लोग अपने अपने स्वार्थ के लिये कार्य कर रहे हैं।बस्ता सदस्यों को सिर्फ खाना मिलता है। और कुछ नही अधिक दबाव व शोषण किया जाता है। हम सभी उग्रवादियों से अपील करते हैं। कि आत्मसमर्पण कर सरकार द्वारा पुर्नवास नीति का लाभ उठायें और सम्मान के साथ गाँव, घर समाज के रहे।

  • कोल्हान विश्वविद्यालय : KU ने घोषित किया LLB प्रवेश परीक्षा का दिन, KMPM वोकेशनल कॉलेज में होगा

    पश्चिम सिंहभूम के चाईबासा स्थित कोल्हान विश्वविद्यालय (KU) के परीक्षा विभाग ने जमशेदपुर स्थित जमशेदपुर को-ऑपरेटिव लॉ कॉलेज में सत्र 2021-24 के लिए संचालित होने वाले LLB पाठ्यक्रम में दाखिले के लिए प्रवेश परीक्षा की तिथि घोषित हो गयी है। प्रवेश परीक्षा आगामी 24 अप्रैल रविवार को आयोजित की जाएगी। परीक्षा सुबह 11 से दोपहर 12 बजे तक संचालित की जाएगी। परीक्षा कक्ष में प्रवेश करने का समय 10.15 रहेगा। इसके लिए छात्रों के पास फोटो युक्त एडमिट कार्ड, हस्ताक्षर होना अनिवार्य है।

    ओएमआर शीट 10.45 बजे दी जाएगी। परीक्षा का समय एक घंटा निर्धारित है। परीक्षा केंद्र बिष्टुपुर स्थित मिसेस KMPM वोकेशनल कॉलेज को बनाया गया है। 19 अप्रैल से कोल्हान यूनिवर्सिटी की अधिकारिक वेबसाइट से एडमिट कार्ड डाउलोड किया जा सकता है। LLB में कुल 120 सीटों पर नामांकन होना है। इसके लिए विद्यार्थियों की ओर से 31 जनवरी से 15 फरवरी तक फॉर्म भरे गए थे।

  • झारखंड के धनबाद में नाबालिग से दुराचार का आरोपी को सजा

    झारखंड के धनबाद में नाबालिग से दुराचार के आरोपी गाजो राम महतो को कोर्ट ने उम्रकैद की सजा सुना दी है। 32 वर्षीय आरोपी के खिलाफ पाथडीह थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। आरोपी ने 14 वर्षीया लड़की को हवस का शिकार बनाया। पीड़िता ने थाने में दिए आवेदन में आरोप लगाया था कि 28 अप्रैल 2019 की शाम सात बजे वह अपने घर के बगल में खुले स्थान में शौच के लिए गई थी, उसी वक्त पड़ोस के गाजो राम महतो ने जबरन उसके साथ दुष्कर्म करने किया था।

    दुष्कर्म के बाद गाजो ने चुप रहने के लिए उसे जान मारने की धमकी भी दी थी। आर्थिक बदहाली के कारण वह घटना की सूचना तत्काल थाने को नहीं दे पाई थी। एक मई 2019 को थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। लेकिन पुलिस की गहन छानबीन में यह मामला सत्य पाया गया था।

    अनुसंधान के बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ 26 जून 2019 को न्यायालय में आरोप पत्र दाखिल किया था तथा 19 जुलाई 2019 को आरोपी के खिलाफ कोर्ट में आरोप का गठन किया गया था। अभियोजन पक्ष की ओर से इस मामले में कुल सात गवाहों की गवाही कराई गई थी। पीड़िता गाजो को चाचा कह कर पुकारती थी। आरोपी ने अपने कृत से रिश्ते को शर्मसार कर दिया।

  • झारखण्ड : साहिबगंज जिले के विंद्यवासिनी मंदिर को बहुत जल्द मिलेगा पर्यटन स्थल का दर्जा

    11 अप्रैल को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन विंद्यवासनी मंदिर में मत्था टेकने पहुंचेंगे। इसकी घोषणा बरहेट विधानसभा के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा ने बरहरवा स्थित विंध्यवासिनी मंदिर में मेला के उद्घाटन अवसर पर कहा। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा ने मंदिर समिति द्वारा शौपे गए सभी मांग पत्रों को बहुत जल्द पूरा करने की आश्वासन दिया। पंकज मिश्रा ने कहा कि यह मंदिर माननीय मुख्यमंत्री के विधानसभा क्षेत्र में आते हैं। इसलिए इसके प्रति माननीय मुख्यमंत्री की अपार श्रद्धा है। और इस मंदिर के पूर्ण विकास के लिए जो भी जरूरी कदम हैं ।

    उन सब को बहुत जल्द पूर्ण कर दिया जाएगा। साहिबगंज के बरहरवा स्थित विंध्यवासिनी मंदिर को एक भव्य रुप दिया जाएगा । जिससे कि इस मंदिर को राज्य के पर्यटन स्थल के मानचित्र में स्थान मिल सके। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा एक माह तक चलने वाले मेला का उद्घाटन करने पहुंचे। जहां उन्होंने माता के दरबार में मत्था टेटे और पूजा-अर्चना भी की। पंकज मिश्रा के आगमन पर मंदिर समिति के लोगों को काफी उम्मीद जगी और मंदिर से जुड़े मांग पत्रों की एक कॉपी पंकज मिश्रा को सौंपा। जिस पर पंकज मिश्रा ने सभी मांगों को बहुत जल्द पूर्ण करने का आश्वासन दिया।इसके साथ ही पंकज मिश्रा ने कहा कि 11 अप्रैल को सिदो कान्हो की जयंती है और उस दिन मुख्यमंत्री का आगमन होगा। इसके साथ-साथ मुख्यमंत्री विंध्यवासिनी मंदिर में भी माथा टेकने आएंगे। इस घोषणा से मंदिर परिसर में उपस्थित सभी लोगों ने खुशी का इजहार करते हुए जोर से माता का जयकारा लगाया।

  • बदलेगा झारखंड के स्कूलों का समय,जानें कबतक चलेंगे क्लास

    झारखंड के सरकारी स्कूलों की टाइमिंग बदलने वाली है। सुबह साढ़े छह बजे से साढ़े 11 बजे या फिर 12 बजे तक स्कूलों का संचालन किया जायेगा। स्कूली शिक्षा व साक्षरता विभाग इसकी तैयारी कर रहा है। वर्तमान में सुबह सात बजे से एक बजे तक स्कूलों का संचालन हो रहा है। राज्य में पड़ रही गर्मी को देखते हुए शिक्षक संगठन इसका विरोध कर रहे थे।

    इसके बाद शिक्षा विभाग स्कूल टाइमिंग में बदलाव करने जा रही है। अगले एक-दो दिन में इसके निर्देश जिलों में भेज दिए जाएंगे और अगले सप्ताह सोमवार से नई टाइमिंग पर स्कूल चलने लगेंगे।

    उधर, अखिल झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष विजेंद्र चौबे के नेतृत्व में एक शिष्टमंडल ने शिक्षा सचिव राजेश शर्मा से मिलकर विद्यालय संचालन अवधि में बदलाव करने की मांग की। साथ ही, सप्ताह के तीसरे शनिवार को अवकाश, मध्याह्न भोजन योजना सुचारू रूप से चलाने और शिक्षकों की वरीयता सूची निर्माण की चर्चा की गई। शिक्षा सचिव ने भी माना कि राज्य में गर्मी बढ़ी है और बच्चों के हित में शिक्षकों की मांग सही है। जल्द ही इस पर निर्णय लेने का आश्वासन दिया।

Back to top button
error: Content is protected !!