Month: April 2022

  • गोपालगंज में मां काली की पूजा के अवसर पर सात दिवसीय मेले का आयोजन

    धनबाद जिले के निरसा क्षेत्र अंतर्गत गोपालगंज रामकनली में राजद के वरिष्ठ नेता तारापोदो धीवर के द्वारा मां काली की पूजा के अवसर पर सात दिवसीय मेले का आयोजन किया गया, जहा मां काली की महा प्रसाद पाने के लिए हजारों की संख्या में श्रद्धालु मंदिर पहुंचने लगे। जहा सभी श्रद्धालु पूजा के अवसर पर महाप्रसाद पाने के साथ साथ मेले का भी आनंद लेने पोहौचे,वही मेले में विभिन्न प्रकार के व्यंजन, चरखी, बच्चो के मनोरंजन के लिए मिकी माउस, एक से बडकर एक झूले एवं महिलाओ के लिए दुकान आदि लगाए गए है।

    मौके पर उपस्थित मेले एवं पूजा कमिटी की अध्यक्ष सह ईसीएल के चापापूर,बैजना,हरियाजम, कोलीवारी के एजेंट उमेश चौधरी ने कहा की इस मंदिर की मां काफी जागृत है जो भी भक्त मां के दरबार में आते हैं। उनकी मनोकामना पूर्ण होती है,आस पास के सभी गांव के लोग यहां पूजा करने तथा मेले में घूमने आते है। इस मेले में किसी तरह की कोई गड़बड़ी ना हो इसके लिए निरसा पुलिस तैनात दिखी

  • डोरंडा में पूर्व विधायक ने किया यशोदा इंटरनेशनल स्कूल का उद्घाटन, ज्ञान और संस्कार पर दिया जोर

    धनवार प्रखंड के डोरंडा पुराना बस स्टेंड के पास सोमवार को यशोदा इंटरनेशनल स्कूल का उद्घाटन गांडेय के पूर्व विधायक सह भाजपा नेता जय प्रकाश वर्मा, सांसद प्रतिनिधि ओम प्रकाश वर्मा, भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष सुनील अग्रवाल द्वारा सामूहिक रूप से फीता काट कर किया। इस दौरान कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पूर्व विधायक ने कहा कि शिक्षा मनुष्य के लिए बहुत जरूरी है। शिक्षा से ही परिवार, समाज व देश की उन्नति हो सकती है। कहा कि विद्यालय तो बहुत है पर ज्ञान और संस्कार दोनों मिले वैसे विद्यालय की जरूरत है।

    उद्घाटन समारोह में विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित सांसद प्रतिनिधि ओम प्रकाश वर्मा तथा भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष सुनील अग्रवाल ने भी शिक्षा के प्रति प्रकाश डालते हुए कहा कि आज शिक्षा के स्तर में ह्रास हुआ है। कहा कि निजी विद्यालयों में ज्ञान नही रटन्त विद्या दी जाती है जो परीक्षाओं में काम आता है पर जरूरत है बच्चों को ज्ञान की प्राप्ति हो जो जीवन भर काम आ सके। कहा कि बच्चे देश के भविष्य हैं। बच्चे पढ़लिखकर काबिल बनेंगे तभी समाज और हमारा देश विकास की ओर अग्रसर होगा। शिक्षा से ही समाज में फैल रही कुरुतियाँ भी दूर हो सकती है। वही विद्यालय के डॉयरेक्टर सुधीर कुशवाहा ने कहा कि ज्ञान से ही विज्ञान का निर्माण हुआ है और हम ज्ञान- विज्ञान के उच्च कोटी की शिक्षा देने के उद्देश्य से विद्यालय का आधार शिला रखें है।

  • गिरिडीह उपायुक्त सह निर्वाचन पदाधिकारी ने आयोजित किया प्रेस कॉन्फ्रेंस

    राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा आगामी त्रिस्तरीय पंचायत आम निर्वाचन को लेकर जारी अधिसूचना के आलोक में गिरिडीह जिला अंतर्गत नगर निगम एवं नगर पंचायतों को छोड़कर बाकी शेष ग्रामीण क्षेत्रों में आचार संहिता लागू किया गया है। इसी आलोक में आज जिला निर्वाचन पदाधिकारी (पंचायत)-सह-उपायुक्त, नमन प्रियेश लकड़ा की अध्यक्षता में समाहरणालय सभागार कक्ष में प्रेस मीडिया प्रतिनिधियों के साथ बैठक का आयोजन किया गया।

    जहां जिला निर्वाचन पदाधिकारी (पंचायत)-सह-उपायुक्त ने बताया कि झारखंड के राज्यपाल, झारखंड पंचायत राज अधिनियम 2001 की धारा 66 की उपधारा 4 के अधीन निर्गत की गई पंचायती राज विभाग की अधिसूचना संख्या 729 रांची द्वारा त्रिस्तरीय पंचायत निर्वाचन 2022 को 4 चरणों में मतदान सम्पन्न कराने का निर्देश प्राप्त हुआ है। उन्होंने बताया कि दिनांक 14 मई को प्रथम चरण, दिनांक 19 मई को द्वितीय चरण, दिनांक 24 मई को तृतीय चरण एवं दिनांक 27 मई को चतुर्थ चरण अर्थात कुल 4 चरणों में मतदान संपन्न किया जाएगा।

  • निरसा स्थित महामाया फ्यूल्स में छापेमारी भरी मात्रा में अवैध कोयला के साथ एक कोयला लदा ट्रक जप्त

    निरसा में अवैध कोयले का कारोबार थमने का नाम नहीं ले रहा है जहां पुलिस भी इस अवैध कारोबार को रोक लगाने में विफल साबित हो रही है। रात्रि 11बजे छापामारी किया। लगातार S. D.M. और C. O. छापेमारी कर भारी मात्रा अवैध कोयला बरामद किया गया। वही कोल माफिया अपनी हरकत से बाज नहीं आ रहे हैं। इसी कड़ी में धनबाद एसडीएम और निरसा सीओ के नेतृत्व में निरसा स्थित महामाया फ्यूल्स में छापामारी कर लगभग 350 टन अवैध कोयला साथ कोयला लदा एक ट्रक भी जप्त किया गया है.

    वही भट्टे मालिक के इतने मनोबल बढ़ हे कि देर रात छापेमारी के बाद भी सुबह मे साईकिल व मोटरसाकिल के माध्यम से अवैध कोयला लिया जा रहा था। बताया जा रहा है कि उक्त भट्टे का संचालक रमेश गोप का है। छापेमारी के संबंध में निरसा अंचल अधिकारी नितिन शिवम गुप्ता ने बताया की गुप्त सूचना के आधार पर उपायुक्त के आदेश अनुसार छापेमारी किया गया जिसमे 350 टन अवैध कोयले के साथ एक कोयला लदा ट्रक को भी जप्त किया गया, अवैध कारोबारी के खिलाफ प्रशासनिक अधिकारी आगे की कार्यवाही कर रही है।

  • दारू में शांतिपूर्ण ढंग से निकली झांकी, रात भर झूमते रहे रामभक्त

    दारू प्रखंड क्षेत्र में रामनवमी पूजा धूमधाम से शांतिपूर्ण रूप से मनाया गया नवमी की रात दारू और झुमरा में करीब एक दर्जन गांव से रामनवमी की झांकी निकाली गई. राम भक्त महावीरी झंडा लेकर शामिल हुए जय श्री राम किनारे से पूरा क्षेत्र गूंज उठा पारंपरिक हथियार और लाठी डंडा का करतब दिखाते रहे। झांकी में सभी क्लब द्वारा प्रभु श्री राम के चरित्र वर्णन वह आकर्षक झलक दिखाया गया। जिससे देख लोग काफी आकर्षित हुए।यह झांकी दारू चौक से जबरा एन एच 100 मार्ग से गुजरे सरकार के गाइडलाइन के अनुसार सभी क्लबों ने रामनवमी जुलूस निकाले राम भक्त रात भर ताशा पार्टी के धुन में झूमते रहे।

    दारू प्रखंड के बासोबार बसंत क्लब, भारती क्लब, छोटका इरगा क्लब, झुमरा चौक से हरली तिलैया शिव मंदिर तक मुख्य मार्ग में जमे रहे। मेडकुरी ,बक्सीहडीह से आकर्षक झांकी निकाली गई। झूमरा के समाजसेवी और ब्यवसायी अशोक कुशवाहा, सन्दीप कुमार और संजय कुशवाहा द्वारा श्रद्धालुओं के बीच शरबत, पानी और चना का वितरण किया गया।रामनवमी महापर्व सरकार के दिशा निर्देश पर सफल बनाने को लेकर दारू प्रशासन और दारू रामनवमी महासमिति के पदाधिकारी तत्परता दिखाएं

  • सीएम हेमंत सोरेन पहुंचे भोगनाडीह सिद्धू कानू की प्रतिमा को किया मलयार्पण

    राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सिद्धू कानू की जन्मस्थली बरहेट के भोगनाडीह पहुंचे. इस दौरान जिला प्रशासन के द्वारा उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया. JSLS के सखी मंडल ने आदिवासी रीति रिवाज से भव्य स्वागत किया गया. सीएम सिद्धू कानू की प्रतिमा को माल्यार्पण कर पुष्प अर्पित की. वही सीएम हेमंत सोरेन जनता की समस्याओं से भी रूबरू होते हुए शहीदों के वंशज परिवारों के घर जाकर उनसे मुलाकात की एवं वंशज परिवारों को शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया ।

    वंशज के परिवार वालों से सीएम हेमंत सोरेन बातचीत कर परिवारों के साथ हर संभव मदद करने की बात कही. इनके बाद मुख्यमंत्री के काफिला सड़क मार्ग के द्वारा शहीद क्रांति स्थल बाबूपुर पहुंच कर सिद्धू कानू प्रतिमा को पूजा अर्चना की. सिद्धू कानू चांद भैरव कि नारा से जयघोष हुआ. इनके बाद सड़क मार्ग होते हुए अपने आवास पतना की ओर प्रस्थान कर गए. वही सीएम के आगमन को लेकर विभिन्न चौक चौराहों पर सुरक्षा में तैनात रहे ।

  • धनवार चावल कालाबाजारी मामले में जिला शिक्षा अधीक्षक की टीम ने की जांच

    धनवार प्रखंड क्षेत्र के उत्क्रमित मध्य विद्यालय मामायहरी में मध्याहन भोजन का चावल बेचने का लगाए गए आरोप का सोमवार को नोडल पदाधिकारी जिला शिक्षा अधीक्षक गिरिडिह सह क्षेत्रीय शिक्षा पदाधिकारी गिरिडिह द्वारा लगभग दो घण्टे का गहन जाँच किया गया। इस दौरान ग्रामीणों तथा आवेदन में हस्ताक्षर करने वाले सभी महिला परुषों से पूछताछ की गई। इस दौरान कुछ ऐसे भी मामले आये जिसमें आरोप लगाने वालों द्वारा दिए गए आवेदन में छोटे-छोटे बच्चों से भी हस्ताक्षर कराया गया था। कई लोगों ने तो जाँच अधिकारी को वृद्धा पेंशन करा देने के नाम पर भी हस्ताक्षर कराया गया था।

    वहीं जाँच के दौरान किसी ने विद्यालय से राशन निकाल कर बेचते देखने की बात को स्वीकार नही किया। यहां तक कि आरोप लगाने वालों ने भी प्रत्यक्ष चावल बेचते नही देखने की बात स्वीकार किया। बावजूद कई बिंदुओं पर गहन जाँच पड़ताल की गई। जिसके उपरांत नोडल पदाधिकारी जिला शिक्षा अधीक्षक गिरिडिह सह क्षेत्रीय शिक्षा पदाधिकारी गिरिडिह से पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवालों पर बताया कि मेराज आलम सहित ग्रामीणों द्वारा विद्यालय का चावल बेचे जाने का आरोप लगया गया था जिसकी जाँच की जा रही है। जाँच प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद रिपोर्ट के माध्यम से अवगत करा दिया जाएगा।

  • लोहरदगा में इंटरनेट सेवा बंद निषेधाज्ञा लागू हालात कर्फ्यू की तरह स्थिति तनावपूर्ण पर नियंत्रण में

    लोहरदगा रामनवमी जुलूस में पथराव के बाद हिंसक झड़प और आगजनी की घटना होने के बाद जिले में स्थिति तनावपूर्ण पर नियंत्रण में है। हिंसक झड़प के दौरान उपद्रवियों के हाथों एक युवक की मौत होने की सूचना है पर ,इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है। सुरक्षा बल के जवान प्रभावित इलाकों समेत संवेदनशील स्थानों पर कैंप किए हुए हैं। पुलिस प्रशासन के अधिकारी लगातार गस्ती कर हर गतिविधि पर निगरानी कर रहे हैं।

    जिले में तनाव पूर्ण वातावरण के बीच अमन चैन बहाल करने के लिए शासन प्रशासन द्वारा लगातार मशक्कत किया जा रहा है ।लोहरदगा जिले में रैप,जैप, जगुआर ,सीआपीएफ, आईआरबी, जिला बल समेत लगभग एक दर्जन कंपनियां की तैनाती की गई है। कई पूर्व पुलिस अधिकारियों को भी बुला कर तैनाती की गई है। रविवार देर रात इंटरनेट सेवा बंद कर दिया गया है। विधि व्यवस्था संधारण व अफवाहों से बचने के लिए इंटरनेट सेवा बंद किया गया है।

    इंटरनेट सेवा बंद होने से लोहरदगा जिले की रफ्तार थम गई है। सोशल मीडिया की गतिविधियां पूरी तरह बंद है तो, वाणिज्य व्यवसाय और बैंकों पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है ।बैंक सेवाएं पूरी तरह चरमरा गई है। हालांकि घटना के दूसरे दिन सोमवार को शहरी और ग्रामीण इलाकों का बाजार बंद रहा ।सड़कें वीरान पड़ी है। सड़कों पर सिर्फ इक्का-दुक्का वाहनों को देखा जा सकता है। केंद्रीय महावीर मंडल ने घटना के विरोध में बंद की अपील व्यापारियों से किया है। इंटरनेट इंटरनेट सेवा, बाजार बंद ,सड़कें वीरान है।

    बॉक्साइट खनन व परिवहन भी ठप्प रहा। घटना को लेकर जिले की रफ्तार थम गई है। इधर रामनवमी के दिन हुई हिंसक झड़प व आगजनी से प्रभावित गांव हिरही, कुजरा, कुर्से आदि गांव में निषेधाज्ञा लागू है पर हालात कर्फ्यू की तरह बन गई है। लोग डरे सहमे अपने घरों में दुबके हैं। यहां से छोटे-बड़े वाहनों और मकानों का जला मलवा हटा दिया गया है। गांव को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है। पुलिस प्रशासन के अधिकारी हीरही गांव में कैंप कर रहे हैं। शहरी क्षेत्र में वज्र वाहन व पुलिस सायरन के साथ सुरक्षा बल लगातार गस्ती कर रहे हैं।

  • मानव तस्कर पन्नालाल की पत्नी ने किया सरेंडर, एक लाख का था इनाम

    कुख्यात मानव तस्कर पन्ना लाल महतो की पत्नी सुनीता देवी ने सोमवार को सरेंडर कर दिया है। सरेंडर करने के बाद कोर्ट ने 14 दिनों के न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। सुनीता को एनआइए ने वांटेड घोषित किया था। उसपर एक लाख का इनाम भी रखा गया था। झारखंड में यह पहली बार है जब किसी मानव तस्कर पर इनाम रखा गया हो। सुनीता देवी बहुत पहले खूंटी से गिरफ्तार कर जेल गई थी। इसके बाद जमानत पर निकलने के बाद से ही फरार थी।

    खूंटी में दर्ज केस को एनआइए ने टेकओवर कर शुरू किया था अनुसंधान

    खूंटी के एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिग यूनिट (एएचटीयू) थाने में 19 जुलाई 2019 को दर्ज मानव तस्करी के एक केस को टेकओवर करते हुए एनआइए ने चार मार्च 2020 को प्राथमिकी दर्ज की थी। खूंटी पुलिस ने एएचटीयू वाले केस में ही पन्ना लाल महतो को गिरफ्तार किया था। एनआइए के अनुसंधान में यह जानकारी मिली है कि अभियुक्त पन्ना लाल महतो व उसकी पत्नी सुनीता देवी ने मिलकर दिल्ली में तीन प्लेसमेंट एजेंसी से बड़े पैमाने पर मानव तस्करी की है। ये तस्कर झारखंड से गरीब व निर्दोष नाबालिग बच्चे-बच्चियों को नौकरी दिलाने के नाम पर ले जाते हैं और दिल्ली तथा आसपास के राज्यों में उनका सौंदा कर देते हैं। वहां उनका शोषण होता है।

  • स्मार्ट सिटी कॉन्क्लेव : रांची को एक बार फिर मिलेगा बेस्ट लीडरशिप का अवार्ड, ग्रीन जोन पर था विशेष ध्यान

    स्मार्ट सिटी कॉन्क्लेव का आयोजन इस बार सूरत में 18 और 19 अप्रैल को होगा। पूरे देश में जो भी स्मार्ट सिटी में सबसे बेहतर काम नजर आया है.उन्हें एक बार फिर से सूरत में पुरस्कृत किया जाएगा। रांची स्मार्ट सिटी को इस बार बेस्ट लीडरशिप के अवार्ड से नवाज़ा जायेगा । यह स्मार्ट सिटी सबसे अधिक योजना और टेंडर निकाल कर काम करने में काफी आगे है। रांची स्मार्ट सिटी में कई योजनाओं पर काम चल रहा है। इसमें मुख्य रूप से सीवरेज ड्रेनेज, गैस पाइपलाइन, मोबाइल केवल, वाटर सप्लाई समेत कई काम है।

    400 करोड़ों रुपए का फंड किया गया है जमा

    रांची स्मार्ट सिटी में जमीन का ऑकशन कर 400 करोड़ों रुपए का फंड जमा किया गया है। इसमें भी रांची स्मार्ट सिटी को अवार्ड मिलने की काफी संभावना है। कुछ दिन पहले रांची स्मार्ट सिटी के सीईओ अमित कुमार ने निरीक्षण कर कंपनियों को आदेश दिया था कि जल्द से जल्द पूरा किया जाए। काम में किसी तरह की लापरवाही नहीं बरती जाए।

Back to top button
error: Content is protected !!