Month: April 2022

  • आयुष्मान कार्ड से इलाज न होने से नाराज डायलिसिस के मरीजों ने किया प्रदर्शन

    धनबाद | धनबाद में बकाया बिल भुगतान की मांग को लेकर धनबाद के सभी प्राइवेट अस्पतालों ने प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना से इलाज बंद कर दिया है। इससे नाराज डायलिसिस के मरीजों ने सोमवार को बैंकमोड़ के धनबाद नर्सिंग होम के सामने विरोध प्रदर्शन करते नजर आये। इस प्रदर्शन में बहुत सरे लोग और बहुत सरे डायलिसिस के मरीज शामिल रहे।

    प्रदर्शन में शामिल डायलिसिस के मरीजों का कहना था कि प्रधानमंत्री द्वारा आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत झारखंड से की थी। सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना को धनबाद के प्राइवेट अस्पतालों ने अपने यहां बंद कर दिया है। प्राइवेट अस्पतालों के इस आमानवीय कृत के कारण डायलिसिस के मरीज मरने के कगार पर पहुंच गए हैं। मरीजों को सप्ताह में 2 से 3 डायलिसिस लेना पड़ता है। निजी अस्पताल एक बार डायलिसिस करने के 1500 -2500 रुपए लेते हैं। गरीब मरीजों के लिए इतना पैसा देना संभव नहीं है। धनबाद में लगभग 450 डायलिसिस के मरीज हैं। इसमें लगभग 400 मरीजों का डायलिसिस प्रधानमंत्री आयुष्मान योजना के तहत होता था।

    प्राइवेट अस्पतालों द्वारा डायलिसिस बंद करने के कारण इन मरीजों का डायलिसिस बंद हो चुका है। कई लोगों की स्थिति काफी खराब हो चुकी है। विरोध प्रदर्शन करने वालों में रीना कुमारी, सरिता कुमारी, महेंद्र साहू, मंजू देवी, मुकेश कुमार, हीरालाल महतो, मीरा कुमारी, कपिल राणा, चंद्रभूषण, मोहम्मद नईम अंसारी, नौशाद , कृष्ण मोहन सिंह, पलटू पॉल,चांदनी कुमारी आदि शामिल थे। डायलिसिस के मरीजों ने यह भी कहा है कि यदि प्राइवेट अस्पताल जल्द आयुष्मान भारत योजना के तहत डायलिसिस शुरू नहीं करते तो वह लोग मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और डीसी धनबाद से मिलकर गुहार लगाएंगे।

  • जिला स्तरीय कांग्रेस का पदाधिकारी प्रतिनिधि सम्मेलन हुआ आयोजित

    जिला स्तरीय कांग्रेस का पदाधिकारी प्रतिनिधि सम्मेलन जिला अध्यक्ष मुक्ता मंडल की अध्यक्षता में आयोजित की गई। जिसमें जिला संगठन प्रभारी सह पूर्व मंत्री के एन त्रिपाठी, जामताड़ा विधायक डॉ इरफान अंसारी, ए आई सी सी के सदस्य हरिमोहन मिश्रा व पार्टी के पदाधिकारी और प्रतिनिधि शामिल हुवे। जहाँ के एन त्रिपाठी ने उपस्थित सभी लोगों से सीधा संवाद किया और कमियों में जल्द पूरा करने का आश्वासन दिया। साथ ही पार्टी के लिए हमेशा तत्पर होकर काम करने की सलाह दिया।

    मौके पर जिला संगठन प्रभारी सह पूर्व मंत्री के एन त्रिपाठी ने कहा की पंचायत, प्रखंड और जिला स्तर तक जो भी सशक्त और मजबूत लोग है उनका चयन कर जिम्मेवारी दे रहे हैं। संवाद कार्यक्रम के माध्यम से सारे सशक्त लोग सभी संगठात्मक पदों पर बैठते हुवे संवाद कार्यक्रम को मजबूत कर रहे हैं। पार्टी वैसे लोगों को आगे लाने का काम कर रहे हैं।

  • मिर्जाचौकी के महादेववरण स्थित शिवबाला माँ पार्वती मंदिर से प्रतिमा के साथ निकाला भव्य शोभायात्रा

    मिर्जाचौकी के महादेववरण स्थित शिवबाला में नवनिर्मित मां पार्वती मंदिर में प्रतिमा स्थापना को लेकर श्रद्धालुओं ने मां की प्रतिमा के साथ निकाला भव्य शोभायात्रा , सैकड़ों की संख्या में शामिल हुए श्रद्धालु साहिबगंज जिले के मिर्जाचौकी स्थित महादेवरन शिव मंदिर में नवनिर्मित मां पार्वती के मंदिर में प्रतिमा प्राण प्रतिष्ठा को लेकर चल रहे तीन दिवसीय धार्मिक अनुष्ठान में माता पार्वती , गणेश जी , कार्तिक जी के साथ नंदी जी की मूर्ति के साथ भारी संख्या में भक्तजनों ने मिर्जाचौकी में भव्य शोभायात्रा निकाला जिसमें हजारों हजार की संख्या में भक्तों का जनसैलाब उमड़ पड़ा ।

    यह शोभायात्रा शिव मंदिर से होकर मिर्जाचौकी बाजार लोहरपट्टी गांधीनगर मिर्जाचौकी फाटक नयाटोला गैलेक्सी फील्ड गया तथा पुनः वापस वर्णवालपट्टी चौधरीपट्टी होते हुए शिव मंदिर को पहुंचा इस शोभायात्रा में गाजे बाजे के साथ भक्तगण झूमते नृत्य करते शोभायात्रा में शामिल हुए वही संध्या के वक्त मिर्जाचौकी बाजार पूरा भक्तिमय में गुंजायमान रहा तथा मंदिर प्रांगण भी भक्तों से गुलजार रहा

  • डिस्कवरी पब्लिक स्कूल में धूम धाम से मनाया गया विदाई समारोह

    डिस्कवरी पब्लिक स्कूल मिर्जागंज में एक विदाई समारोह का आयोजन कर कक्षा दशम के सत्र 2021- 22 के छात्र एवम छात्रों को विदाई दिया गया। विदाई का आगाज़ सामूहिक रूप से दशम के छात्र एवम छात्रा को चैयरमेन नवीन साव, निदेशक राकेश कुमार प्राचार्य देवाशीष कर एवम सभी शिक्षकगण ने केक काटकर किया । समाहरोह को संबोधित करते हुए चैयरमेन नवीन साव ने कहा कि यह विदाई उच्च शिक्षा प्राप्त कर विभिन्न विभिन्न क्षेत्रों में सेवा देने की और परचम लहराने की है 8 वर्षों के छात्रों के साथ का बीते सफर को स्मरण को व्यक्त करते उनके कोमलहृदय द्रवित हो उठा।

    इधर निदेशक राकेश साव का भी बच्चों के साथ उनके शुरुआती कक्षा से कक्षा दशम तक के सफर को अपने शब्दों में व्यक्त करते करते उनका गला रुंधने लगा उन्होंने कहा कि मेरा विद्यालय परिवार हमेशा अपने छात्रों के साथ है भले वे कहीं भी शिक्षा प्राप्त करे और मेरा आशीर्वाद और स्नेह उनके परछाई की तरह साथ है, इधर छात्रों ने भी अपने बिताये समय को मंच से साझा कर कल्पित हो उठे।

  • चौथे दिन भी राजपुरा खादान में डुबा जमशेद का नही चला पता, निराश दिखी एनडीआरएफ की टीम

    राजपुरा कोलियरी के बंद खदान में शुक्रवार की दोपहर डूबे जमशेद आलम का चौथे दिन सोमवार को भी पता नहीं चल पाया। सोमवार की सुबह से एनडीआरएफ की टीम जमशेद की तलाश में पूरा खानदान को छान मारा। बावजूद उसका अभी तक पता नहीं चल पाया है। जमशेद का पता लगाने में असफल रही एनडीआरएफ की टीम निराश दिखी। एनडीआरएफ इंस्पेक्टर ओपी गोस्वामी ने कहा कि जमशेद की तलाश करने में कोई भी कसर नहीं छोड़ा है। उनके पास जितने भी शस्त्र थे सभी का प्रयोग कर चुके हैं। यहां तक की देशी उपाय झगड़ का भी प्रयोग किया गया है। परंतु खदान की गहराई बहुत ज्यादा होने के कारण जमशेद को खोज पाने में काफी कठिनाई हो रही है। उनका कहना है की अब इंतजार ही किया जा सकता है।

    वही एग्यारकुंड अंचलाधिकारी सुश्री अमृता कुमारी ने कहा कि एनडीआरएफ की टीम ने बच्चे को खोज निकालने में कोई कसर नहीं छोड़ा है। उन्होंने आज पूरा दिन हर तरह से प्रयास किया है परंतु खदान की गहराई ज्यादा तथा ठंडा पानी होने की वजह से जमशेद खोज पाना मुश्किल हो रहा है। हमारा भरपूर प्रयास होगा की जमशेद को जल्द से जल्द खोज पाने में हमलोग सफल होंगे। इसके लिए एनडीआरएफ के वरीय पदाधिकारी से अनुरोध कर सोमवार को भी जमशेद को खोजने का अभियान जारी रहेगा। मौके पर एडीएम नंद गुप्ता, एग्यारकुंड बीडीओ विनोद कर्मकार, जेएमएम नेता लखी सोरेन, मुखिया मो. सनोव्वर, उपमुखिया मो. मुस्तकीम, राजपुरा कोलियरी के पदाधिकारी, कुमारधुबी पुलिस एवं ग्रामीण मौजूद थे।

  • तोपचांची मे सड़क दुर्घटना 1 की हालत गंभीर

    तोपचांची थाना क्षेत्र के बड़ा गुरुद्वारा के समीप हुई सड़क दुर्घटना जिसमें टैंकर गाड़ी नंबर NL01AA 4082 ने खड़ी ट्रक को टक्कर मार दी टक्कर इतनी जोरदार थी. कि टैंकर का अगला हिस्सा ट्रक में जा फंसा और टैंकर चालक घंटो ट्रक मे फसा रहा ग्रामीणों के सहयोग से चालक को निकालने की कोशिश की लेकिन निकालने में असमर्थ रहा वही. स्थानीय पुलिस को सूचना दी गई स्थानीय पुलिस ने गैस कटर के माध्यम से चालक को बाहर निकाला और धनबाद इलाज के लिए रेफर कर दिया गया.

    आपको बता दें कि तोपचांची में आए दिन सड़क दुर्घटना होती रहती है बीते कुछ दिन पूर्व एक टैंकर ने एक कार को अपनी चपेट में ले लिया था जिसमें कार पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया था ग्रामीणों का कहना है कि आए दिन तक तोपचाची में एक्सीडेंट होते रहता है, प्रशासन को इस और ध्यान देना चाहिए और भीड़भाड़ जगहों पर गो स्लो का बोर्ड लगा देना चाहिए ताकि एक्सीडेंट कम हो।

  • धनबाद के पुटकी थाना क्षेत्र में 2 बाइक के बिच जोरदार टक्कर, 4 घायल

    धनबाद | धनबाद के पुटकी थाना क्षेत्र के जामाडोबा फुट की मुख्य मार्ग पर आज दोपहर दो बाइक में जोरदार टक्कर हो गई जिसमें 4 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं वही उसमें से एक की स्थिति नाजुक बताई जा रही है .घटना में महिला और बच्चे भी शामिल है. दोपहर करीब 3:00 बजे जामाडोबा तरफ से आ रही मोटरसाइकिल बाइक और पुटकी के तरफ से आ रही बाइक में बलिहारी के पास आपस में टकरा गए .

    जिसमें चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं. घटना की सूचना के बाद पुटकी पुलिस मौके पर पहुंचकर घायल लोगों को स्थानीय लोगों की मदद से धनबाद एएनएमएमसीएच अस्पताल भेज दिया .वह इस घटना में एक युवक की स्थिति काफी गंभीर बताई जा रही है।

  • आयुष्मान कार्ड होने के बाद भी नहीं हो रहा इलाज़, लोग हो रहे परेशान

    धनबाद के करकेंद निवासी अशोक रजवार को अपनी मां के के लिए अस्पतालों ले गए उनके पास आयुष्मान गोल्डन कार्ड था। वहां डॉक्टरों ने आयुष्मान से इलाज करने से साफ़ मना कर दिया। अशोक की तरह दर्जनों गरीब परिवार आयुष्मान भारत योजना से इलाज की आस लेकर निजी अस्पतालों में कब से घूम रहे है। कहीं उनका इलाज नहीं हो रहा है। सभी निजी अस्पतालों ने बकाया भुगतान की मांग को लेकर आयुष्मान से इलाज बंद कर दिया है। नतीजा मरीज गोल्डन कार्ड लेकर भटक रहे हैं।

    नीजी अस्पतालों ने कैशलेस इलाज किया बंद

    बता दें कि पांच माह के बकाया भुगतान की मांग को लेकर आयुष्मान से रजिस्टर्ड जिले के सभी 25 अस्पतालों ने गोल्डन कार्ड पर शुक्रवार से कैशलेस इलाज बंद कर दिया है। इसका खमियाजा मरीजों को भुगताना पड़ रहा है। पाटलिपुत्र नर्सिंग होम के संचालक डॉ निर्मल ड्रोलिया कहते हैं कि उनके अस्पताल में सुबह से लगभग 20 लोग आयुष्मान के तहत इलाज करवाने आ चुके हैं। चाह कर भी उनका इलाज नहीं कर पा रहा हूं। सरकार बकाया पैसे नहीं दे रही है। पांच महीने से भुगतान नहीं हुआ है। जब तक संभव हुआ, जरूतमंदों को सुविधा दी। अब बिना पैसे काम करना मुश्किल हो गया है।

     

  • अग्निशमन विभाग की गाड़ी ने मरी बच्चे को टक्कर, मौके पर ही हुई मौत

    पलामू के मेदिनीनगर में रविवार की सुबह एक बहुत बड़ी दुर्घटना सामने आयी है।कचहरी चौक के पास अग्निशमन विभाग की गाड़ी ने एक साइकिल पर सवार बच्चे को जोरो की टक्कर मार दी। इसमें मौके पर ही बच्चे की मौत हो गई। घटना से लोग काफी आक्रोश में दिखाई दिए और रास्ता जाम कर दिया। बच्चा साइकिल से मॉर्निंग वॉक पर निकला था।बच्चे की पहचान 12 वर्षीय वैभव सिंघानिया के रूप में हुई है। बच्चे के पिता सागर सिंघानिया की मौत पिछले साल हो गई थी।वैभव अपने छोटे भाई और मां के साथ घूम रहा था। इसी दौरान सुबह करीब साढ़े छह बजे अग्निशमन विभाग की गाड़ी ने बच्चे को अपनी चपेट में ले लिया।

    बताया जा रहा है कि शहर के रेड़मा में लगी आग को बुझाने के लिए फायर ब्रिगेड की गाड़ी काफी तेज रफ्तार से जा रही थी। इसी दौरान कचहरी चौक पर वाहन ने बच्चे को अपनी चपेट में ले लिया। घटना से गुस्साए लोगों ने सड़क पर बैरिकेटिंग कर रास्ते को बंद कर दिया। घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। एसडीपीओ सुरजीत कुमार,थाना प्रभारी इंस्पेक्टर अरुण महथा ने लोगों को समझाने का प्रयास किया। लोग कुछ भी सुनने को तैयार नहीं थे। दुर्घटना के बाद चालक गाड़ी लेकर शहर थाना पहुंच गया। करीब तीन घंटे की मशक्कत के बाद जाम खत्म हुआ। उपायुक्त शशि रंजन ने आश्वासन दिया कि बच्चे की मां की नौकरी और मुआवजे पर गंभीरता से विचार किया जाएगा।

    घटना के बाद मौके पर पहुंचे परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल था। लोगों का कहना थाा कि हादसा गाड़ी चालक की गलती से हुआ है। लिहाजा पुलिस को कठोर कार्रवाई करनी चाहिए। बच्चे का शव सड़क पर पड़ा थाा। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजने की कोशिश की लेकिन लोग नाराज हो गए।

  • राजपुरा कोलयरी के बंद खादान में 30 घंटे बाद पहुंची NDRF की टीम, खोजबीन में जुटी

    ईसीएल मुगमा क्षेत्र के बंद राजपुरा कोलियरी खदान में शुक्रवार को डूबे आठवीं का छात्र जमशेद को 30 घंटे बाद भी नहीं निकाला जा सका है। शनिवार को एनडीआरएफ टीम का इंतजार सारा दिन शिवलीबाड़ी के ग्रामीण करते रहे। जिससे जमशेद के परिजनों के अलावे स्थानीय लोगों में गुस्सा देखा गया। घटना की सूचना पर शनिवार के दोपहर निरसा विधायक अपर्णा सेनगुप्ता शिवलीबाड़ी पहुंची। जिनके समक्ष लोगों ने आक्रोश व्यक्त किया। अविलंब एनडीआरएफ टीम को बुलाने की मांग की। विधायक सेनगुप्ता ने एग्यारकुण्ड सीओ अमृता कुमारी से मोबाइल पर बात की। सीओ ने देवघर से गोताखोर की टीम बुलाने का भरोसा दिलाया। कहा कि शाम तक टीम आ जायेगी। सूचना पर पूर्व विधायक अरूप चटर्जी भी पहुंचे।

    ईधर झामुमो के वरिष्ठ नेता अशोक मण्डल भी मौके पर पहुंचे और जिला प्रशासन से जमशेद को निकालने के लिये ठोस कदम उठाने की मांग की। देर शाम करीब 8 बजे एनडीआरएफ की टीम घटना स्थल पहुंची। तुरंत सभी बच्चें की खोज शुरू कर दी। सीओ अमृता कुमारी, बीडीओ विनोद कर्मकार, मुखिया मो सनोव्वर, गुलाम कुरैशी, गुलजार, लखी सोरेन, रंजीत मोदी, मो मुस्तकीम वही चिरकुंडा अंचल पुलिस निरीक्षक योगेंद्र पासवान कुमारधुबी ओपी प्रभारी ललन प्रसाद सिंह, गलफरबाड़ी ओपी प्रभारी संजय उरांव सहित अन्य लोग भी मौके पर थे। बता दें कि शुक्रवार को दोपहर ढाई बजे जमशेद कुछ साथियों के साथ खदान में नहाने गया था। इसी दौरान वह खदान के गहरे पानी में डूब गया।

Back to top button
error: Content is protected !!